नकाबपोश हमलावरों ने दिया झघटना को अंजाम, स्थिति तनावपूर्ण 

पंजाब में खन्ना क्षेत्र के  गांव जगेड़ा में शनिवार रात को दो नकाबपोश युवकों ने डेरा सच्चा सौदा सिरसा के नामचर्चा घर की कैंटीन में डेरा प्रेमी पिता-पुत्र की गोलियां मारकर हत्या कर दी। करीब साढ़े 7 बजे हुई इस घटना के बाद से क्षेत्र में तनाव की स्थिति बनी हुई है तथा सुरक्षा के मद्देनजर समूचे क्षेत्र को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है। मृतकों में बेटे का नाम रमेश कुमार (35) और पिता का नाम सतपाल (65) है। वे अहमदगढ़ (संगरूर) के रहने वाले थे और ढाई माह पहले ही कैंटीन किराये पर ली थी और सप्लाई का काम करते थे। दोनों लंबे समय से डेरे से जुड़े थे। इनकी कपड़े की दुकान भी है।


हत्या की वजह साफ नहीं हो पाई है। कैंटीन नामचर्चा घर के एंट्री गेट के पास ही है। सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक 7.24 बजे दोनों नकाबपोश मोटरसाइकिल पर सवार होकर मालेरकोटला की तरफ से आए थे। उन्होंने सिर पर टोपी पहन रखी थी। हमलावरों ने मोटरसाइकिल से पहुंचे और इसे गेट पर खड़ा दिया, लेकिन उसे स्टार्ट ही रखा। दोनों हमलावर फरार हैं। दोनों गैर सिख थे और 26 सेकंड में वारदात को अंजाम देकर भाग गए। हत्या की वजह स्पष्ट नहीं है। वारदात के बाद मौके पर काफी संख्या में डेरा समर्थक इक_ा हो गए। देर रात शव पोस्टमार्टम के लिए लुधियाना भेज दिए गए।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.