प्रति मत के हिसाब से मतों के अंतर को लेकर लगाई गई थी शर्त

श्री मुक्तसर साहिब

जिले में विधानसभा चुनाव दौरान व मतगणना से पूर्व प्रत्याशियों की जीत हार को लेकर लगती रही शर्तों के कई मामले सामने आए थे, लेकिन अब मतगणना का काम निपटने के दो सप्ताह बाद एक नई तरह की शर्त को लेकर बढ़ा विवाद गर्मा गया है। यह शर्त जीत हार को लेकर नहीं बल्कि मतों के अंतर को लेकर प्रति मत के आधार पर लगाई गई थी। हालांकि शर्त की राशी चाहे काफी कम थी, लेकिन मतों का अंतर बढऩे कारण राशी लाखों में पहुंच जाने कारण अब पैसों के लेन देन का मामला उलझ गया है।
वीरवार को उक्त मामला श्री मुक्तसर साहिब शहर में चर्चा का विषय बना रहा। सूत्रों अनुसार अनाज मंडी की एक दुकान में इस शर्त को लेकर करीब दो घंटे तक बहसब चलती रही। बताया जा रहा है कि शिअद  नेता कंवरजीत सिंह रोजी व आजाद प्रत्याशी सुखदर्शन सिंह मराड़ के बीच मतों के अंतर को लेकर शहर के कुछ लोगों की चार शर्तें लगी हुई थीं। प्रति मत के हिसाब से शर्त होने के चलते दोनों प्रत्याशियों के बीत मतों का अंतराल आशा से अधिक बढऩे से यह राशि बढक़र 25 लाख से ऊपर पहुंच गई। जिस कारण दोनों पक्ष ही पैसे के लेने देन में हिचकचाने लगे हैं। वीरवार को अनाज मंडी में हुई बैठक में सियासी नेता, व्यापारी व अन्य लोग शामिल थे, लेकिन  कोई हल नहीं निकला। हालांकि यह भी पता चला है कि शर्त लिखित तौर पर गवाहों की मौजूदगी में लगी है, जिसके चलते दो पक्षों में काफी बहसबाजी हुई, लेकिन दूसरे लोगों ने शांत करवा दिया। विवाद एक शर्त के रद्द होने को लेकर है, जिसकी राशि करीब साढ़े नौ लाख रुपये है।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.