श्री मुक्तसर साहिब

 कांग्रेस की सरकार बनते ही सत्ताधारी पार्टी के नेता अकालियों पर हावी होते नजर आने लगे हैं। थाना कोटभाई पुलिस ने जहां एक मामले में यूथ अकाली दल के अध्यक्ष व उसके साथियों पर मामला दर्ज किया है वहीं कुछ दिन पूर्व गांव लुहारा में हुए झगड़े को लेकर अकाली सरपंच सहित 12 लोगों को नामजद किया है। फिलहाल किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। 
थाना प्रभारी बलजीत सिंह ने बताया कि पीडि़त लोगों की शिकायत पर बीरदविंदर सिंह टिक्का, गुरदीप सिंह, गुरदेव सिंह, हाकम सिंह, मलकीत सिंह व एक अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया है। फिलहाल आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। उनके अनुसार गांव मधीर निवासी चरणजीत सिंह व जसविंदर सिंह ने पुलिस को बताया कि उनका गांव में ही रहने वाले बीरदविंदर सिंह टिक्का व उसके परिवार के साथ अदालत में पुराना मारपीट का केस चल रहा है। होली वाले दिन जब वह खेत से घर की ओर आ रहे थे, तो शिअद के हलका प्रधान बीरदविंदर सिंह टिक्का ने कथित तौर पर अपने साथियों समेत मिलकर उन्हें बुरी तरह से पीट कर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया। आस पास के लोगों के एकत्रित होने के बाद वह उन्हें जान से मार देने की धमकियां देते हुए मौके से फरार हो गए।
इसी तरह गांव लुहारा के मामले में दोदा चौकी के प्रभारी नरिन्दर कुमार ने बताया कि पुलिस ने कांग्रेस कार्यकर्ता गुरदास सिंह के बयानों के आधार पर कार्रवाई की है। उनके अनुसार पुलिस को दिए बयानों में गुरदास सिंह ने बताया कि कुछ दिन पूर्व जब वह लोग स्टीरियो लगा कर नाच रहे थे तो उपरोक्त अकाली पक्ष के लोगों ने हम पर हमला बोल दिया, जिसके चलते वह लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए। उनके अनुसार पुलिस ने अकाली दल के मौजूदा सरपंच कुलदीप सिंह, लखवीर सिंह, लखविंदर सिंह, वरिंदरपाल सिंह, गुरमीत सिंह, जगमीत सिंह, सुखजीत सिंह, सेवक सिंह, लवप्रीत सिंह, जगमीत सिंह, बलतेज सिंह, रेशम सिंह टल्लू आदि के खिलाफ थाना कोटभाई में विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.