मानसा
 फिजिकली हेंडीकैप्ड एसोसिएशन पंजाब के महिला ङ्क्षवग की प्रधान ज्योति शर्मा ने कहा कि प्रदेश में चरमराई कानून-व्यवस्था व सरकारों की जनविरोधी नीतियों के कारण महिलाओं पर हो रहे अत्याचार पर ङ्क्षचता जताई। उन्होंने कहा कि महिलाओं को सम्मान भरी जिंदगी जीने के लिए शक्तिशाली होने की जरूरत है।
 गांव फत्ता मालोका के गुरुद्वारा संगतसर में दिव्यांग और विधवा महिलाओं की एक सांझी जागरूकता रैली को संबोधित कर रहीं थी। उन्होंने कहा कि बेशक समय के बदलाव के साथ आज की महिला की स्थिति में परिवर्तन हुआ है, मगर अभी भी महिलाओं खास तौर पर अपंग और विधवाओं को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। जिला उपप्रधान भीम सिंह भूपाल, सुखजीत घुदूवाला, गुरसेवक मक्कों, सुनीता रानी और अमनदीप कौर ने कहा कि यह जत्थेबंदी गैर सरकारी संस्था है। इसका मकसद किसी किस्म की राजनीति नहीं, बल्कि अपंग और विधवा महिलाओं को उनके अधिकारों और हकों के प्रति जागरूक कर जत्थेबंदी से जोडऩा है। इस अवसर पर परमजीत कौर साहनेवाली, रूप कौर, करमजीत कौर, अमनप्रीत कौर, कुलवंत कौर, चरनजीत कौर और जसविंदर कौर आदि उपस्थित थे।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.