बेटी श्वेता और बेटे अभिषेक में बांटा जाएगा वसीयत का बराबर का हिस्सा


चाहे दुनिया इक्कीसवीं सदी के में जी रही है तथा आज के दौर में लड़कियों ने अपनी प्रतिभा के दम पर काफी हद तक साबित भी कर दिखाया है कि वह किसी भी क्षेत्र में लडक़ों से किसी मायने में कम नहीं हैं। लेकिन इसके बावजूद लडक़ा-लडक़ी अथवा बेटा-बेटी के बीच भेदभाव हमारे देश में कोई नई बात नहीं है। इस सब के बीच बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन द्वारा लिया गया स्टैंड निश्चित तौर पर प्रेरणा बनेगा।

हालांकि बेटा बेटी के अथवा लडक़ा लडक़ी के बीच अंतर को लेकर कई प्रकार के भाषण और कई चर्चाएं होती है लेकिन बात तब नई लगती है जब इस सब के बीच कोई खड़ा होता है तथा इसी क्रम में अब बॉलीवुड के महानयक अमिताभ बच्चन ने भी इस पर स्टैंड लेकर सराहनीय कदम उठाया है। इसमें कोई दो राय नहीं कि उनका यह कदम लोगों के लिए प्रेरणा स्त्रोत बनेगा। गौरतलब है कि अमिताभ बच्चन ने हाल ही में अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक तस्वीर शेयर की है जहां उनके हाथ में एक पेपर है जिसपर उन्होंने एक बेहतरीन उदहारण दिया है। अमिताभ का कहना है कि उनकी मौत के बाद उनकी वसीयत का बराबर का हिस्सा होगा जो उनकी बेटी श्वेता और बेटे अभिषेक में बांटा जाएगा।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.