Type Here to Get Search Results !

ढोल लेकर बिल वसूलने के लिए पहुंचे अधिकारी, डिफाल्टरों से सीवर पानी के बिल वसूलने के लिए अपनाया फंडा,

पावरकाॅम द्वारा दिखाई पॉवर ने किया वाटर सप्‍लाई विभाग को पावर दिखाने के लिए विवश

 मलोट 

शहर में सोमवार को विभिन्न मोहल्लों में लोग उस समय अचंभित रह गए जब उनके आस पास रहने वाले सीवरेज पानी के बिन न भरने वाले डिफाल्टरों से बिल बसूलने के लिए विभाग के अधिकारी ढोल लेकर आ धमके। इस दौरान विभाग की इस कार्रवाई से जहां कुछेक लोगों ने तो बिल अदा कर दिया, लेकिन कुछेक जगहों पर बिल भरने को ना होने के चलते उनके घरों के समक्ष ढोल बजाया गया।
विधानसभा चुनावों के बाद पावरकॉम द्वारा दिखाई गई पावर ने सीवरेज व जल सप्लाई विभाग को भी पावर दिखाने के लिए मजदूर कर दिया है। हालांकि मलोट में सीवरेज व वाटरसप्लाई का करीब दो करोड़ रुपये बिल ना भरे जाने के चलते काटा गया बिजली कनेक्शन पांच लाख रुपये का भुगतान करने पर फिर से चालू कर दिया गया है, लेकिन विभाग द्वारा पावरकॉम को शेष राशी 31 मार्च तक जमा करवाने का भरोसा दिया है, जिसके चलते अब अपने डिफाल्टरों से पैसे वसूलने के लिए विभाग शहर में लोगो के दरवाजे पर ढोल बजा के उगाही कर रहा है। गौरतलब है कि मलोट में सीवर व वाटरसप्लाई का बिजली कनेक्शन कटने से सप्लाई ठप्प हो गई थी जिसे लेकर शहर भर में हाहाकार मच गई थी। विभाग ने चाहे एक बाद पांच लाख रुपये भरकर सप्लाई तो शुरू करवा ली लेकिन बाकी राशि 31 मार्च तक अदायगी करने के लिए कठोर कदम उठाना जरूरी हो गया। इस सूरत में विभाग की और से लोगो से बिल की उगाही के लिए विशेष मुहिम के तहत बिल न देने पर लोगो के दरवाजे पर ढोल बजाया जा रहा है। मलोट वाटर सप्लाई के एसडीओ राकेश मोहन मक्कड़ ने बताया कि मलोट में 19000 के करीब खपतकार है जिन में से 20 प्रतिशत लोग बिल अदा करते है बाकी लोगो से 6 करोड़ 60 लाख रुपये बकाया है तथा करीब डेढ़ साल से बिलजी का बिल करीब 2 करोढ़ 60 लाख पेडिंग होने के चलते कनेक्शन काट दिया गया था। अब विभाग की और से पांच लाख भरने पर सप्लाई शुरू कर दी गई बाकी की राशि 31 मार्च तक भर दी जाएगी। इस सूरत में शहर वासियो से पैंडिंग राशि की उगाही करने के लिए उनके दरवाजे पर ढोल बजा कर उगाही की जा रही यदि फिर भी लोगो ने बिल ना भरे तो अदालत का सहारा लिया जाएगा।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.