मानसा के कस्बा भीखी की घटना, मृतक दोनों ही थे गांव खीवाकलां के रहने वाले  

घटना के बाद लोगों में सहम, फिलहाल घटना की वजह का नहीं चल पाया अभी पता

भीखी (मानसा)

पंजाब के जिला मानसा में पड़ते कस्बा भीखी के बस स्टैंड पर उस समय अफरा तफरी मच गई जब एक व्यक्ति ने दिन दिहाड़े सरेआम एक महिला पर गोलियां दाग कर मौत के घाट उतारने के बाद खुद को भी गोली मार कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।
भीखी में घटना  के बाद  पड़े  मृतकों  के  शव व  एकत्रित  लोग
दिन दिहाड़े हुई इस घटना के बाद क्षेत्र में जहां सहम का माहौल पहीं फिलहाल घटना की वजह का कुछ पता नहीं चल पाया है। मौके पर एसएसपी परमबीर सिंह परमार व डीएसपी जसमीत सिंह के नेतृत्व में पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है। 
 जानकारी के अनुसार गांव खीवा कलां की निवासी करीब 40 वर्षीय परमजीत कौर उर्फ पम्मी पत्नी स्व. बलवीर सिंह कस्बा भीखी में दवा लेने के लिए आई हुई थी। घर से निकलते समय उसने शायद सपने में भी नहीं सोचा था कि घर से जाने के बाद वापस उसकी लाश ही घर पहुंचेगी। बताया जा रहा है कि गांव खीवा कलां का ही रहने वाला बलतेज सिंह उर्फ तेजू उसका पीछा कर रहा था। बस स्टैंड के पास वाली गली में बैंक के पास उसकी परमजीत कौर पम्मी से मुलाकात हो गई तथा उनकी किसी बात पर तकरार होने के बाद देखते ही देखते बलतेज सिंह ने परमजीत कौर को गोलियों से भून डाला।
मानसा के कस्‍बा भीखी में घटना के बाद  मृतका के परिजनों को शांत करते एसएसपी
परमजीत कौर को मार डालने के बाद उसने रिवाल्वर से खुद को भी गोली मार कर आत्महत्या कर ली। घटना को लेकर आस पास सनसनी फैल गई तथा सूचना मिलते ही एसएसपी मानसा परमबीर सिंह परमार व डीएसपी जसमीत सिंह भीखी पुलिस सहित मौके पर पहुंचे तथा शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी।

परिजनों ने भाखी प्रभारी को ठहराया जिम्मेदार

 घटना वाली जगह पर उस समय पर हंगामा और बढ़ गया जब मृतका परमजीत कौर के जेठ जसवीर सिंह सहित मौके पर पहुंचे अन्य परिजनों ने इस घटना के लिए सरेआम थाना भीखी के प्रभारी को जिम्मेदार ठहराया। मृतका के जेठ जसवीर सिंह ने थाना प्रभारी पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी ओर से करीब तीन माह पूर्व पुलिस को इस संबंध में अवगत कराया था, लेकिन पुलिस द्वारा कोई ठोस कार्यवाही अमल में नहीं लाई गई जिसके परिणाम स्वरूप यह घटना हुई है।

थाना प्रभारी ने आरोपों को सिरे से नकारा

उधर थाना प्रभारी प्रताप सिंह ने संपर्क करने पर खुद पर लगाए जा रहे आरोपों को सिरे से नकार दिया। थाना प्रभारी ने बताया कि मृतक बलतेज सिंह के खिलाफ काफी समय पहले मामला दर्ज किया गया था तथा उस समय पुलिस की ओर से आवश्यक कार्यवाही की गई थी।

Tags , ,

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.