पहले एक चरवाहा बकरी को बचाने के लिए घुसा था चंदभान ड्रेन में  

 श्री मुक्तसर साहिब

 बकरी को ड्रेन में डूबने से बचाने के लिए जान जोखिम में डालने वाले अपने साथी चरवाहे को डूबता हुआ देखकर दूसरे ने भी जान की परवाह ना करते हुए जान की बाजी लगा दी तथा नहर में कूद गया। हालांकि बकरी तो दूसरे किनारे से बाहर निकल गई, लेकिन दोनों युवा चरवाहों की जान पर ड्रेन में कूदना भारी पड़ गया तथा दोनों की मौत हो गई। घटना की सूचना के बाद दो युवाओं की मौत के चलते क्षेत्र में शोक की लहर है।

 शुक्रवार को सुबह गांव भागसर के बेहद निर्धन परिवारों से संबंधित जस्सा सिंह (22) पुत्र बल सिंह व गोपाल सिंह (15) पुत्र जीत सिंह रोजाना की तरह बकरियां चराने के लिए घर से निकले थे। वह लोग गांव भागसर से रामगढ़ चुंघा को जाने वाली सडक़ पर पड़ते चंद भान ड्रेन के पुल से मदरस्से की ओर ड्रेन पर बकरियां चरा रहे थे। इस दौरान अचानक एक बकरी ड्रेन के पानी में जा गिरी। बकरी को बचाने के लिए उनमें से एक चरवाहा पानी में घुस गया तथा ड्रेन की दलदल में फंस गया। अपनी साथी को डूबता देखकर उसे बचाने के लिए दूसरे ने भी ड्रेन में छलांग मार दी। लेकिन बकरी को बचाने के लिए ड्रेन में कूद जाना दोनों की ही जान पर भारी पड़ा तथा जस्सा सिंह व गोपाल सिंह दलदल में से बाहर नहीं आ पाए। हालांकि जिस बकरी को वह बचाने के लिए अंदर घुसे थे, वह दूसरी ओर से बाहर निकल गई। आसपास के लोगों ने शवों को बाहर निकाला तथा मौके पर थाना लक्खेवाली की पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस ने जस्सा सिंह व गोपाल सिंह के शवों को पोस्ट मार्टम के लिए सिवल अस्पताल मलोट भेजा।
Tags

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.