मामला खुलने पर जागी पुलिस द्वारा जिस्मफरोशी के अड्डों पर दबिश,22 महिलाओं सहित तीस काबू - BTTNews

Breaking

�� बी टी टी न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें bttnewsonline@yahoo.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 7035100015 पर

POLL- PM KON ?

Saturday, April 01, 2017

मामला खुलने पर जागी पुलिस द्वारा जिस्मफरोशी के अड्डों पर दबिश,22 महिलाओं सहित तीस काबू

हनुमानगढ़ जिला पुलिस द्वारा की गयी कार्रवाई

हनुमानगढ़ (राजस्थान)


दिल्ली की एक किशोरी को हनुमानगढ़ जंक्शन में लाकर वेश्यावृत्ति के अड्डे पर बेचने के मामले का भंडाफोड़ होने के बाद बाल अधिकार संरक्षण आयोग की चेयरपर्सन मनन चतुर्वेदी की फटकार के चलते नींद से जागी हनुमानगढ़ पुलिस ने जिस्मफरोशी के विभिन्न अड्डों पर छापेमारी की। हनुमानगढ़ टाऊन व जंक्शन में छापेमारी से धंधे में लिप्त लोगों में हडक़म्प मच गया। इस छापेमारी में टाऊन व जंक्शन से 20 महिलाओं को व सात पुरुषों को काबू किया गया है। इनके खिलाफ महिला थाने में सात प्रकरण दर्ज करने की कार्रवाई देर रात तक जारी थी। उधर, संगरिया में पुलिस ने दो अड्डों पर छापे मारे। इन अड्डों से दो महिलाओं को पीटा एक्ट में गिरफ्तार किया गया है। इनमें एक बठिंडा की मनजीत कौर है। दूसरी संगरिया की ही रेशमा है। इनके अड्डों पर बोगस ग्राहक भेजे गये थे। सौदेबाजी होते ही पुलिस ने छापा मार दिया। हनुमानगढ़ टाऊन और जंक्शन में छापेमारी के लिए कईं पुलिस टीमें गठित की गईं। इन टीमों का सुपरविजन पुलिस अधीक्षक भुवनभूषण यादव ने खुद किया। डीएसपी वीरेन्द्र जाखड़ ने वेश्यावृत्ति के अड्डों पर बोगस ग्राहक भेजे, जहां से इशारा मिलते ही उनके निर्देश पर पुलिस टीमों ने छापेमारी की। इन अड्डों से पकडक़र लाई गई महिलाओं ने कुछ तो किशोरवय हैं। पुलिस के अनुसार इनमें कुछ युवतियां दिल्ली की हैं। पकड़ी गई इन युवतियों से खुद पुलिस अधीक्षक ने भी पूछताछ की। इन अड्डों से सात पुरुष भी पकड़े गये हैं। इनमें दो-तीन इन अड्डों के दलाल हैं।

बहुत सफेदपोश लोगों का आना जाना था मंजू के अड्डे पर

जिस्मफरोशी के अड्डों पर आने-जाने वाले सफेदपोश अनेक लोगों के नाम सामने आने पर भाजपा का एक युवा नेता इनकी ढाल बनकर आगे आ गया है। इस नेता ने सत्तारूढ़ दल से सम्बन्धित होने के कारण इनको बचाने के लिए ऐड़ी-चोटी का जोर लगा रखा है। तीन दिन पूर्व दिल्ली की किशोरी को हनुमानगढ़ जंक्शन के वार्ड नं. 41 के सुरेशिया मोहल्ले में मंजू अग्रवाल के अड्डे से बाल कल्याण समिति द्वारा मुक्त करवाये जाने के बाद से लगातार नये खुलासे हो रहे हैं। मोहल्ले के लोग खुलकर बाल कल्याण समिति और पुलिस को बता रहे हैं कि मंजू के अड्डे पर कौन-कौन प्रभावशाली एवं सफेदपोश लोग आते-जाते थे। इनकी गाडिय़ां दिन-रात मंजू के अड्डे पर खड़ी रहती थीं, जबकि पुलिस चौकी वहां से 50 मीटर दूर है। यही नहीं अड्डे से लड़कियों को होटलों, आलीशान कोठियों, फार्म हाऊस तथा अय्याशी के अन्य अड्डों पर भेजी जाती थीं।

सफेदपोशों के बचाव में आया युवा भाजपा नेता

दिल्ली की किशोरी को भी पिछले एक महीने से ऐसे ही ठिकानों पर भेजा जाता था। उसे ठिकानों पर ले जाने वाले जगतार नामक युवक को पुलिस ने दबोच रखा है। उससे हुई पूछताछ के आधार पर ही इस धंधे के ठिकानों की जानकारी लेकर आज पुलिस ने छापेमारी की। लेकिन भाजपा का युवा नेता पुलिस अधिकारियों पर पूरा दबाव बनाये हुए है कि प्रभावशाली और सफेदपोश लोगों पर कोई कार्रवाई नहीं की जाये। पीडि़त किशोरी ने पुलिस को बताया है कि वह किसी का नाम तो नहीं जानती, लेकिन सामने लाये जाने पर वह उनको पहचान अवश्य लेगी। दिलचस्प बात ये है कि अभी तक पुलिस अधिकारियों ने ऐसे काम पिपासु सफेदपोशों को धर-दबोचने के लिए उनके कैरीकेचर चित्र तक तैयार नहीं करवाये हैं, जबकि यह किशोरी उनका पूरा हुलिया बता सकती है। सूत्रों के मुताबिक युवा नेता की सक्रियता पुलिस के लिए बाधा बनी हुई है। वह पुलिस को ऐसे लोगों तक पहुंचने नहीं दे रहा। जिन-जिन लोगों के नाम सामने आ रहे हैं, उन्हें लोगों द्वारा झूठा फसाना पुलिस अधिकारियों को बताकर मामले को हल्का करने में लगा हुआ है। खास आज यह है कि पुलिस को जिस मंजू अग्रवाल की तलाश है, कभी उसने भाजपा के युवा नेता पर भी छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया था।



No comments:

Post a Comment