मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने घटना पर जताया गहरा दुख
तेज रफतार वाहनों को रोकने के लिए अधिकारियों को निर्देश
चण्डीगढ़

बुधवार को जडिंयाला कस्बे के एक गांव में तेज रफ्तार जीप के एक घर में दाखिल होने से हुये अजीबो गरीब हादसे से चार बच्चों सहित छह लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। इस घटना पर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने गहरा दुख व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने इस हादसे में मृतकों के परिवारों को सांत्वना देते हुए जिला पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियेां को इस घटना की पूरी जांच के निर्देश दिये है। साथ ही तेज रफतार गाडिय़ों के कारण बढ़ रहे सडक़ हादसो पर चिंता प्रकट करते हुये मुख्यमंत्री ने परिवहन विभाग व ट्रैफिक पुलिस के  कर्मचारियों को तैयार किये जा रहे परिवहन नीति के ने प्रारूप के लिए तेज रफतार गाडिय़ों पर रोक लगाने हेतू ठोस उपाय सामने लाने के लिए कहा। मुख्यमंत्री ने कहा कि बेलगाम तेज रफतार गाडिय़ों द्वारा सडक़ो पर मचाये जा रहे आंतक को रोके जाने की जरूरत है ताकि ऐसे हादसो में बेगुनाह जानों के नुकसान से बचा जा सके। परिवहन विभाग की पांच अप्रैल को हुई जायजा बैठक दौरान मुख्यमंत्री ने दो सप्ताह में नई परिवहन नीति को प्रारूप तैयार करने के आदेश दिये थे। इस बैठक दौरान सडक़ सुरक्षा , सडक़ बुनियादी ढांचे व यातायात नियमों को सख्ती से लागू करने संबधी विचार विमर्श हुआ था।

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.