आशिक संग मिल महिला ने पति जबकि युवक ने दो बच्चों की मां को उतारा मौत के घाट - BTTNews

Breaking

�� बी टी टी न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें bttnewsonline@yahoo.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 7035100015 पर

POLL- PM KON ?

Thursday, April 20, 2017

आशिक संग मिल महिला ने पति जबकि युवक ने दो बच्चों की मां को उतारा मौत के घाट

गांव  भागसर में बिलखते परिजन

जिला श्री मुक्तसर साहिब में अवैध संबंघों को लेकर हुई दो अलग अलग घटनाओं ने उजाड़े कई घर

श्री मुक्तसर साहिब
समाज में होने वाली विभिन्न हत्या की घटनाओं में अत्यधिक की वजी जर, जोरु व जमीन ही रहती है, लेकिन पिछले कुछ समय से ज्यादातर घटनाओं में अवैध संबंध मौत की वजह बन रहे हैं। जिला श्री मुक्तसर साहिब की मलोट सब डिविजन में पड़ते गांव खुन्नणकलां में जहां अवैध संबंधों के चलते एक महिला ने आशिक व अन्य लोगों के संग मिलकर अपने पति को मार डाला वहीं गांव भागसर में भी एक युवक ने महिला को तेजधार हथियार से मौत के घाट उतार दिया। फिलहाल गांव भागसर की घटना में अवैध संबंघों की बात तो सामने नहीं आई है, लेकिन फिलहाल मामला संदिज्ध नजर आ रहा है। हत्यारोपी 22 वर्षीय अविवाहित युवक की मां के अनुसार मृतका उसके बेटे को बार बार फोन करके परेशान किया करती थी।
मृतका का शव
थाना सदर मलोट के अधीन आते गांव खुन्नण कलां में प्रेम संबंधों के चलते पत्नी ने आशिक व अन्य लोगों की मदद से पति की जान लील ली, जिसके बाद मृतक का शव सरहिंद नहर में से बरामद हुआ। पुलिस दिए बयान में मृतक के भाई राजिंदर सिंह ने बताया है कि गांव खुन्नण कलां निवासी उसके भाई बलजिंदर सिंह (29) पुत्र गुरमेज सिंह की पत्नी सोमपाल के गुरपिंदर सिंह के साथ अवैध संबंध थे। इस बात को लेकर घर में अक्सर झगड़ा रहता था। राजिंदर के अनुसार जब उसका भाई बलजिंदर घर न लौटा तो उसकी तलाश शुरु की गई जिसके बाद उसका शव सरहिंद फीडर से बरामद हुआ। पुलिस ने मृतक के भाई के बयानों पर पत्नी सोमपाल कौर, प्रेमी गुरपिंदर सिंह, कुलविंदर सिंह और परमजीत कौर के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है।
 उधर थाना लक्खेवाली में पड़ते गांव भागसर में इंदरजीत सिंह की करीब 29 वर्षीय पत्नी रणदीप कौर उर्फ बीना वीरवार को सुबह करीब दस बजे घर में अकेली कपड़े धोने में लगी हुई थी। इसी दौरान गांव का ही रहने वाला युवक जगरूप सिंह पुत्र दिलबारा सिंह उनके घर आया तथा घर में घुसते ही उसने अपने हाथ में पकड़ी तेजधार कृपाण के साथ रणदीप कौर के गले पर ताबड़तोड़ वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया तथा मौके से फरार हो गया। जैसे ही इस घटना की सूचना का गांव वासियें को पता लगा तो गांव में सनसनी फैल गई तथा आस पास के लोग बड़ी संख्या में एकत्रित हो गए। रणदीप कौर का शव घर के अंदर ही पड़ा हुआ था। एकत्रित लोगों के अनुसार करीब 11 साल पहले रणदीप कौर का विवाह इंदरजीत सिंह के साथ हुआ था तथा उनके करीब 8 साल व 6 साल के दो बेटे है। पारिवारिक सदस्यों ने बताया कि आरोपी जगरूप सिंह व रणदीप कौर के पति इन्द्रजीत सिंह के बीच में किसी बात को लेकर कुछ दिन पहले झगड़ा हुआ था तथा इसी झगड़े को लेकर करीब 22 वर्षीय अविवाहित जगरूप सिंह ने कपड़े धो रही रणदीप कौर को जान से मार दिया। पता चला है कि रणदीप कौर 4-5 दिन पहले ही अपने मायका गांव नंदगढ़ से भागसर आई थी तथा इससे पूर्व करीब दो माह से वह मायके में ही थी। सूचना पाकर थाना लक्खेवाली के थानेदार चंचल सिंह के नेतृत्व पहुंची पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी जगरूप सिंह को राउंडअप कर लिया, लेकिन फिलहाल इसकी पुष्टि नहीं की गई है। उधर जगरूप सिंह की माता मलकीत कौर ने मृतका द्वारा अपने बेटे को बार बार फोन करके परेशान करने का आरोप लगाया है।