होने वाले दामाद की बहन के साथ इश्क, 50 वर्षीय अधेड़, उसकी 19 वर्षीय गर्लफ्रेंड ने पीया जहर - BTTNews

Breaking

�� बी टी टी न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें bttnewsonline@yahoo.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 7035100015 पर

POLL- PM KON ?

Thursday, June 01, 2017

होने वाले दामाद की बहन के साथ इश्क, 50 वर्षीय अधेड़, उसकी 19 वर्षीय गर्लफ्रेंड ने पीया जहर

श्रीगंगानगर

 अपनी बेटी का रिश्ता करने के लिए जिस घर में वह गया, वहीं पर ही वह परिवार की 19-20 वर्षीय युवती के साथ आंखे चार कर आया। दोनों की ऐसी आंखें लड़ी कि उन पर इश्क की पट्टी बंध गई। दोनों ने ही अपनी उम्र और दोनों के परिवारों में होने वाले रिश्ते-सम्बंध का ख्याल नहीं रखा। 50 वर्षीय अधेड़ और उसकी 19 वर्षीय गर्लफें्रड ने आज सुबह दीन-दुनिया से बेजार होकर मौत को गले लगाने के लिए कीटनाशक दवा का सेवन कर लिया। इन दोनों को तुरंत अस्पताल में भर्ती करवाया गया। दोनों का उपचार चल रहा है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। हासिल जानकारी के अनुसार श्रीगंगानगर जिले के समेजा कोठी कस्बे के निवासी 50 वर्षीय बनवारीलाल और जैतसर कस्बे के नजदीक चक 7 बीजीडी निवासी 19 वर्षीय गयारसीदेवी ने आज सुबह कीटनाशक दवा का सेवन कर लिया। यह दोनों विगत 25 मई को अपने-अपने घर से गायब हो गये थे। दोनों को ही उनके परिवार वाले ढूंढ रहे थे।

"> इस बीच यह दोनों कल शाम को समेजा कोठी आ गये। बनवारीलाल अपनी बेटी की उम्र की गर्लफ्रेंड को अपने साथ लेकर जैसे ही घर में आया, उसके परिवार में कोहराम मच गया। दोनों को ही परिवार वालों ने न केवल खूब खरी-खोटी सुनाई, बल्कि मारपीट कर भगा दिया। रात को यह दोनों न जाने कहां रहे, लेकिन सुबह बनवारीलाल गयारसी को लेकर वापिस अपने घर आया। दोनों उल्टियां कर रहे थे। पूछने पर इशारे से बताया कि उन्होंने कीटनाशक का सेवन कर लिया है। इस पर फोरन परिवारजन उन्हें समेजा कोठी के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में ले गये। डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार देकर श्रीगंगानगर रैफर कर दिया। दोनों को बेहोशी की हालत में दोपहर को श्रीगंगानगर के जिला अस्पताल में लाया गया। इस मामले की जांच कर रहे समेजा कोठी थाना के एएसआई मनोहरसिंह ने बताया कि उनके पास कोई साधन नहीं था। वे देर रात को किसी की कार द्वारा श्रीगंगानगर इनके बयान लेने के लिए आ रहे हैं।
"> इस बीच यहां लाये जाने पर डॉक्टरों ने बनवारीलाल की जेब से चार पेज का एक सुसाइड नोट बरामद किया। इस सुसाइड नोट में बनवारीलाल ने गयारसीदेवी के साथ अपनी इश्क की दास्तां लिखी है। यह पत्र पुलिस को सौंप दिया गया है। जानकारी के अनुसार बनवारीलाल के दो पुत्र व दो पुत्रियां हैं। उसके एक पुत्र व एक पुत्री की शादी हो चुकी है। इनके भी आगे बच्चे हो गये हैं। यानि बनवारीलाल दादा-नाना है। बताते हैं कि पिछले दिनों वह चक 7 बीजीडी में अपनी दूसरी पुत्री के लिए लडक़े को देखने के लिए गया था। यह लडक़ा उसे पसंद भी आ गया, लेकिन इसी दौरान लडके की बहन गयारसीदेवी खुद बनवारीलाल को पसंद आ गई। इन दोनों में इश्क हो गया, जो अब इस मुकाम पर पहुंच गया है कि दोनों ही जीवन-मृत्यु से संघर्ष कर रहे हैं।

No comments:

Post a Comment