मुख्य चुनावी वायदों को पूरा करने के लिये बजट में प्रमुख वित्तीय फैसले लेने के संकेत - BTTNews

Breaking

�� बी टी टी न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें bttnewsonline@yahoo.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 7035100015 पर

POLL- PM KON ?

Monday, June 05, 2017

मुख्य चुनावी वायदों को पूरा करने के लिये बजट में प्रमुख वित्तीय फैसले लेने के संकेत

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मुख्य चुनावी वादों को पूरा करने के लिये राज्य के बजट दौरान अपनी सरकार द्वारा अनेकों अह़म फैसले लेने के संकेत दिये है जिसका एलान इस महीने के अंत तक किया जायेगा।
मुख्यमंत्री ने बेहतरीन प्रशासन देने के लिये अपनी सरकार की वचनबद्धता को दोहराया और कहा कि उनकी सरकार द्वारा मंत्रीमंडल की पहली बैठक दौरान 140 महत्वपूर्ण फैसलों को लिया था जिनकी कोई वित्तीय देनदारी नही थी। उन्होंने कहा कि बजट दौरान कुछ और अह्म वित्तीय मुद्दों संबंधी फैसला लिया जायेगा। उन्होंने फिजूल खर्ची में कमी लाने और राजस्व बढ़ाने की जरूरत पर जोर दिया। 
यद्यपि उन्होंने यह कहा कि वह आते बजट दौरान लिये जाने वाले संभावित फैसलों का प्रगटावा नही कर सकते पर फिर भी मुख्यमंत्री ने कहा कि वह पंजाब के लोगों के साथ किये प्रत्येक चुनाव वायदों को पूरा करने के लिये वचनबद्ध हैं। 
अकालियों द्वारा समाचारों सहित प्रत्येक वस्तु पर अजारेदारी पैदा करने का आरोप लगाते हुये अकालियों के केबल गठजोड़ तोडऩे की बात करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि शिअद -भाजपा शासन ने राज्य को भ्रष्टाचार और दुरप्रबंध के साथ तबाह कर दिया है और इसको उनकी सरकार द्वारा शीघ्र ही जारी किये जा रहे वाइट पेपर द्वारा नंगा किया जायेगा। 
हरजीत सिंह सज्जन सहित खालिस्तानी तत्वों की धमकियों को रद्द करते हुये कैप्टन अमरिंदर सिंह ने स्पष्ट कया है कि वह कभी भी कैनेडियन रक्षा मंत्री का स्वागत नहीं करेंगे और ना ही एस जे एफ की धमकियों के आगे झुकेंगे जोकि स्पष्ट तौर पर सस्ती शोहरत में लगी हुई हैं। कशमीर में विवादपूर्ण ‘मानवीय ढाल’ बनाये जाने के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने कहा कि मेजर लीतुल गगोई ने दंगाकारियों के हाथों अपने साथियों को बचाने के लिये अपनी दीमागी सूझबूझ की मिसाल दी है। गगोई के पास या तो अपना मिशन छोडऩे या गोली चलाने का ही चारा था जिसके लिये बहुत अधिक जानी नुकसान हो सकता था। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि यदि वह भी मेजर की जगह होते तो यही कुछ करते। 

"> मुख्यमंत्री ने कहा कि सेना का कार्य शांति बनाये रखने पर ही निर्भर नही है और कशमीर के सियासी हल की जरूरत है जोकि केवल केंद्र और राज्य सरकारें ह ी निकाल सकती हैं। एकत्रता में बैठे लोगों में से एक द्वारा प्रशन करने पर उन्होंने हल्के फुल्के अंदाज में कहा कि वह कभी भी सेना में से बाहर नही आये और अब ‘पूर्व सैनिक’ हैं। 
नशों के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया कि उनकी सरकार ने नशों के नेटवर्क को सफलता से तोड़ दिया है और कठोरता अपनाने से नशों की कीमतें बढ़ी जिससे बड़ी संख्या में नशों से पीडि़त लोग उपचार के लिये पूनर्वास केंद्रों में आने लगे हैं। 
पंजाब की औद्योगिक स्थिति का जिक्र क रते हुये कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उनकी हाल ही की मुंबई फेरी के दौरान औद्योगिक दिग्गजों द्वारा दिये समर्थन पर प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने एन आर आईज़ को भ्भी राज्य के उद्योग में निवेश करने का आह़्वान किया है। 

"> मुख्यमंत्री ने राज्य में अमन कानून की स्थिति कायम रखने के लिये अपनी वचनबद्धता व्यक्त करते हुये कहा कि महिलाओं की सुरक्षा एवं हिफाजत के लिये विशेष ध्यान दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि रिवायती पुलिस प्रणाली उनकी सरकार की मुख्य प्राथमिकता है जिस तहत अनावश्यक वी वी आई पी सुरक्षा से पुलिस कर्मचारियों की संख्या घटाकर लोगों के लिये सुरक्षा के लिये तैनात किया गया है। पंजाब विधानसभा परिणामों पर प्रतिक्रिया देते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि अकाली तो मुकाबले में से बाहर ही थ जबकि शुरू शुरू में आम आदमी पार्टी को लोगों का समर्थन मिल रहा था परंतु दिल्ली में उनकी सरकार के कुप्रबंध और खालिस्तानियों एवं गर्मख्यालियों से समीपता के कारण आप पार्टी का असल चेहरा जगजाहिर हो गया। उन्होंने कहा कि पंजाब के लोगों ने बहुत बुरा समय देखा है जिस कारण उन्होंने अमन-शांति एवं स्थिरता के लिये वोट देने का फैसला किया ।

No comments:

Post a Comment