आर टी ए को दस दिनों में कार्रवाई रिपोर्ट पेश करने के लिए कहा
चंडीगढ़, 7 जून:
पंजाब  के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कठोर कार्रवाई करते हुए राज्य में अवैध बसों के घूम रहे चक्के तुरंत रोक कर इनको सडक़ों से हटाने के आदेश जारी किए हैं और इसके साथ ही उन्होंने रीजनल टांस्पोर्ट अथॉरिटी आर टी ए और विजिलेंस विभाग को इस संबंधी दसों दिनों में कार्रवाई रिपोर्ट पेश करने के लिए कहा है।
मुख्यमंत्री ने यह निर्देश  राज्य विधान सभा के बजट समागम के कार्यक्रम को अंतिम रूप देने और कई अन्य महत्वपूर्ण फैसले लेने के लिए आज यहां हुई मंत्रिमंडल की बैठक दौरान जारी किए।
पंजाब की सडक़ों पर चल रही बड़ी संख्या में अवैध प्राईवेट बसों संबंधी रिपोर्ट को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री ने बेगुनाह लोगों की जिंदगी को खतरा पैदा करने वाली ऐसी गैर-कानूनी बसों का चक्का जाम करने के लिए आर टी ए को आदेश जारी किए और इन्हें बिना किसी देरी से सडक़ों पर हटाने को यकीनी बनाने के लिए आर टी ए को कहा।
इन बसों द्वारा कानून की घोर उल्लघंना करने का नोटिस लेते हुए मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया कि इस मामले में कोईज् भी ढील बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि इस संबंध में ढील देने वाले कर्मचारी को भी दोषी पाए जाने पर कठोर सज़ा दी जाएगी।
राज्य में से हर प्रकार के माफिया को समाप्त करने के लिए अपनी वचनबद्धता दोहराते हुए मंख्यमंत्री ने मीडिया रिपोर्टों पर गंभीर चिंता प्रकट की जिनमें कहा गया कि परिवहन माफिया लगातार बसें चला रहा है। उन्होंने परिवहन विभाग को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि वह परिवहन के नियमों की उल्लघंना करने को रोकने विरूद्ध आवश्यक कदम उठाने में नाकाम रहे तो उनके विरूद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी।  मुख्यमंत्री ने विजिलेंस विभाग को भी इन बस अपरेटरों की पहचान करने और उनके विरूद्ध कठोर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।
उन्होंने परिवहन नीति को अंतिम रूम देने के लिए भी विभाग को कहा ताकि राज्य की सडक़ों पर गैर-कानूनी गतिविधियों का खात्मा किया जा सके और आम लोगों की सुरक्षा को यकीनी बनाया जा सके।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.