भारतीय महिलाओं ने विश्व कप में लगातार दूसरा मैच जीतते हुए विंडीज को दी करारी शिकस्त - BTTNews

Breaking

�� बी टी टी न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें bttnewsonline@yahoo.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 7035100015 पर

POLL- PM KON ?

Thursday, June 29, 2017

भारतीय महिलाओं ने विश्व कप में लगातार दूसरा मैच जीतते हुए विंडीज को दी करारी शिकस्त

183 रनों के आसान लक्ष्य का पीछा करने उतरी महिला टीम इंडिया की ओपनर पूनम राउत चाहे कोई भी रन बनने से पहले ही पवेलियन लौट गई, लेकिन उसके बाद मैदान में उतरी स्मृति मंधाना (नाबाद 106) की शतकीय पारी की बदौलत निर्धारित 42.3 ओवरों में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया। महिला विश्व कप 2017 में भारत बनाम वेस्टइंडीज के इस मैच में स्मृति मंधाना की शतकीय पारी ने टीम इंडिया को दिलाई 7 विकेट से दमदार जीत दिलाई। इससे पहले मैदान में उतरी वेस्टइंडीज निर्धारित 50 ओवरों में आठ विकेट खोकर मात्र 183 रन बना सकी। अपना बेहतरीन हरनफनमौला खेल जारी रखते हुए भारत ने महिला विश्व कप में गुरुवार को अपनी लगातार दूसरी जीत दर्ज की है।
भारत ने टॉस जीतकर गेंदाबजी चुनी और वेस्टइंडीज को निर्धारित 50 ओवरों में आठ विकेट पर 183 रनों पर ही सीमित कर दिया। स्मृति ने 108 गेदों में 13 चौके और दो छक्कों की मदद से अहम शतकीय पारी खेली। स्मृति के अलावा कप्तान मिताली राज ने 46 रनों की पारी खेली। इन दोनों ने विंडीज की कप्तान स्टेफेनी टेलर द्वारा दीप्ती शर्मा (16) को बोल्ड करने के बाद तीसरे विकेट के लिए 108 रनों की साझेदारी की। यह साझेदारी तब आई जब भारत ने 33 रनों पर ही अपने दो विकेट खो दिए थे।

">यहां से स्मृति ने कप्तान के साथ पारी को संभाला और टीम को जीत के करीब ले गईं। 141 के कुल स्कोर पर मिताली जब अर्धशतक से चार रन दूर थीं तभी हायेले मैथ्यूज ने उन्हें पवेलियन भेज दिया। इसके बाद स्मृति को मोना मेश्राम (नाबाद 18) का साथ मिला और दोनों ने मिलकर टीम को जीत दिला दी। अंत में मंधाना ने विजयी चौका मारा। इससे पहले, विंडीज टीम भारतीय गेंदबाजों की कसी हुई गेंदबाजी के सामने खुलकर नहीं खेल पाई। एक समय लग रहा था कि विंडीज जल्द ही ऑल आउट हो जाएगी, लेकिन एफे फ्लैचर (नाबाद 36) और अनिसा मोहम्मद (नाबाद 11) ने टीम को 50 ओवरों से पहले ढेर होने से बचा लिया। पूनम यादव सबसे सफल भारतीय गेंदबाज रहीं। उन्होंने 10 ओवरों में दो मेडेन के साथ 19 रन देकर दो विकेट हासिल किए। दीप्ती शर्मा ने 10 ओवरों में एक मेडेन के साथ 27 रन देकर दो विकेट लिए। हरमनप्रीत कौर को भी दो सफलताएं मिलीं। एकता बिष्ट ने भी किफायती गेंदबाजी की और 10 ओवरों में दो मेडेन सहित 23 रन देकर एक विकेट अपने खाते में डाला। वेस्टइंडीज की सिर्फ पांच बल्लेबाज ही दहाई के अंक तक पहुंच सकीं। 69 के कुल स्कोर पर विंडीज ने अपने दो विकेट ही खोए थे। 29 के कुल स्कोर पर बिष्ट ने फेलिसिया वाल्टर्स (9) को पवेलियन भेजा तो 69 के कुल स्कोर पर दीप्ति शर्मा ने हेले मैथ्यूज (43) को अपनी ही गेंद पर लपक लिया। 91 के स्कोर तक आते-आते उसने वेस्टइंडीज के छह बल्लेबाज पवेलियन लौट गई। चेडेएन नाशेन (12) और शानले डेल (33) ने सातवें विकेट के लिए 30 रन जोड़ते हुए टीम को बचाने की कोशिश की, लेकिन हरमनप्रीत कौर ने नाशेन को आउट कर इस साझेदारी तोड़ी। इसके बाद डेल ने फिर फ्लैचर के साथ मिलकर टीम को 146 के स्कोर तक पहुंचाया जहां दीप्ति ने विंडीज को आठवां झटका दिया।


No comments:

Post a Comment