bttnews

अनंत गिरी की अनंत माया- पराये धन पर मन ललचाया

भागवत कथा में आया 15 से 20 लाख चढ़ावे के साथ मन्दिर के लिए आया चढ़ावा भी गायब अनंत गिरी नाम के एक तथाकथि...

भागवत कथा में आया 15 से 20 लाख चढ़ावे के साथ मन्दिर के लिए आया चढ़ावा भी गायब



अनंत गिरी नाम के एक तथाकथित महाराज की एक अनंत कथा की गुत्थी को गांव वाले नहीं सुलझा पाये, तो आज पुलिस के पास पहुंच गये। पुलिस को बताया कि अनंत गिरी नाम का यह महाराज उनके गांव के एक मन्दिर में लगभग एक वर्ष से रह रहा था। विगत मई महीने में उसने भागवत कथा का एक बड़ा आयोजन किया, जिसमें लाखों का चढ़ावा आया। अब यह अनंत गिरी एक महीने से गायब है। साथ में कथा के दौरान मन्दिर के लिए आया चढ़ावा भी गायब है। यह अनंत गिरी कौन है और कहां से आया था, गांव वाले नहीं जानते। अलबत्ता इस अनंत गिरी ने अपनी तस्वीरें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और योग गुरु बाबा रामदेव के साथ लोगों को दिखाकर अच्छा-खासा प्रभाव जमा लिया था। केसरीसिंहपुर थाना क्षेत्र के गांव फूसेवाला का यह मामला है। इस गांव के आज काफी लोग थाने में आये और थानाप्रभारी वेदप्रकाश लखोटिया को एक ज्ञापन सौंपकर इस पूरे मामले से अवगत करवाया। थानाप्रभारी लखोटिया के अनुसार ग्रामीणों का कहना है कि मई महीने में एक सप्ताह की भागवत कथा के दौरान 15 से 20 लाख का चढ़ावा आया था। एक महीने से अनंत गिरी गायब है।


वह अपने साथ चढ़ावे की राशि भी ले गया। थानाधिकारी के अनुसार इस ज्ञापन के आधार पर अभी कोई मामला दर्ज नहीं किया गया। मामला तभी दर्ज हो सकता है, जब कोई व्यक्तिगत रूप से आकर शिकायत दर्ज करवाये कि यह महाराज उसे झांसा देकर उससे रुपये ऐंठ ले गया। यह आम प्रचलन है कि भागवत कथा में जो चढ़ावा आता है, उसे ज्यादातर कथावाचक, धर्मगुरु, महाराज या संत महात्मा अपने साथ ले जाते हैं या फिर आयोजकों को ही किसी धार्मिक कार्य के लिए दे जाते हैं। मगर इस मामले में ऐसा नहीं हुआ है। श्री लखोटिया ने बताया कि लगभग एक वर्ष पहले फूसेवाला के लोगों ने आम पंचायत की सहमति से ही अनंत गिरी को मन्दिर की सेवा करने और पूजा करने का काम सौंपा था। उस समय किसी ने भी अनंत गिरी के बारे में पड़ताल नहीं की कि वह कहां से आया है और कौन है? उसकी दो तस्वीरें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और योग गुरु बाबा रामदेव के साथ की हैं। यह तस्वीरेें सही हैं या कम्प्यूटर ट्रिक से बनाई हुई हैं, यह कहना अभी मुश्किल है। अन्य सूत्र बताते हैं कि भागवत कथा के आयोजन में अनंत गिरी के साथ क्षेत्र के कुछ लोग भी शामिल थे। कथा में आये धन को लेकर इनमेें कोई अंदरुनी विवाद हो जाने की आशंका से भी कोई इंकार नहीं किया जा रहा। सारा पैसा अकेले अनंत गिरी के लेकर गायब हो जाने पर यह विवाद उठा है।


Related

religion 6751027527482299407

Post a Comment

Recent

Popular

Comments

Aaj Ka Suvichar

For Ads

Side Ads

Bollywood hits

Btt Radio

Follow Us

item