कुए के पानी के लिए एक भाई अपने भाई का खून कर देने को आमादा हो गया। उसने पैदल जा रहे भाई को पीछे से ट्रेक्टर द्वारा टक्कर मार दी। ट्रेक्टर के टायर उसके पैरों के ऊपर से निकाल दिये। भाई को कुचलकर वह फरार हो गया। घायल हुए शख्स को मौके पर ही मौजूद उसके पुत्र व दो अन्य जनों ने तत्काल श्रीगंगानगर के निजी अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां उसकी हालत गम्भीर बनी हुई है। 

कत्ल के प्रयास की यह घटना बुधवार देर शाम लगभग 7 बजे घमूड़वाली थाना क्षेत्र के चक 2 ईईए के पास हुई। पुलिस ने बताया कि घायल हुए हरमीत सिंह के पुत्र जगदीप द्वारा दी गई रिपोर्ट के आधार पर उसके चाचा गुरुमोहन सिंह पुत्र जोगेन्द्र सिंह पर धारा 307 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। जगदीप ने बताया कि वह, उसका पिता तथा दो अन्य जने बुधवार शाम लगभग 7 बजे पैदल खेत से घर आ रहे थे। रास्ते में बलजीत ङ्क्षसह के खेत के पास चाचा गुरमोहन सिंह ने पीछे से ट्रेक्टर पर आकर उसके पिता को जान-बूझकर टक्कर मार दी। पुलिस के अनुसार इस घटना से कुछ देर पहले हरमीत सिंह का खेत में कुए के पानी को लेकर अपने भाई गुरमोहन सिंह के साथ झगड़ा हुआ था।


 दरअसल यह कुआ दोनों भाइयों के सांझे का है। इसके पानी के उपयोग को लेकर इनमें विवाद हो गया था। घर-परिवार के तथा मौजिज व्यक्तियों ने कुछ दिन पहले पंचायत कर इनका राजीनामा करवा दिया था। तय हुआ था कि छह दिन गुरुमोहन सिंह और चार दिन जगदीप सिंह कुए के पानी का इस्तेमाल करेंगे। हरमीत सिंह के पक्ष का आरोप है कि इस राजीनामे को गुरुमोहन सिंह ने कल भंग कर दिया। उन्हें कुए से दो दिन ही पानी लगाने दिया। इसके बाद पानी लगाने से मना कर दिया। इसी बात को लेकर कल शाम दोनों भाइयों में झगड़ा हो गया था।
Tags

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.