चूरू जिले में राजगढ़ थाना क्षेत्र में नेशनल हाइवे 52 पर शनिवार बड़े तडक़े सडक़ किनारे खराब खड़ी बस में एक तेज रफ्तार ट्रॉलर आ टकराया। बस के सामने सडक़ किनारे  यात्री बैठे थे, जो ट्रॉलर की चपेट में आ गये। चपेट में आई तीन महिला यात्रियों की मौके पर ही मौत हो गई तथा दो यात्री घायल हो गये। नजदीक में बस के और भी यात्री खड़े थे, जिन्होंने बड़ी फुर्ती से दूसरी तरफ होकर खुद को बचा लिया। 


टक्कर इतनी जबरदस्त हुई कि बस में टकराने वाले ट्रॉलर के ही परखच्चे उड़ गये। बस का अग्रभाग बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। यह हादसा हो जाने पर ट्रॉलर को उसका चालक और परिचालक छोडक़र भाग गये। दो घायलों को राजगढ़ के सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाये जाने के बाद उन्हें डॉक्टरों ने चूरू के लिए रैफर कर दिया। यह निजी बस हरिद्वार से सालासर जा रही थी। इस बस में तडक़े पौने 4 बजे अपने गांव दूधवाखारा जाने के लिए सवार हुए एक यात्री ओमप्रकाश पुत्र चुनीलाल जाट ने बताया कि इसी बस में उसकी चाची गीतादेवी पहले से ही यात्रा कर रही थी। राजगढ़ से रवाना होने के 15 मिनट बाद ही हाइवे पर गांव डोकवा के पास अचानक बस खराब हो गई। चालक ने बस को सडक़ के किनारे खड़ा कर दिया। वह तथा परिचालक बस में आई खराबी को चैक करने लगे। इस दौरान बस से लगभग सभी यात्री बाहर आ गये। यह यात्री इधर-उधर लघुशंका से निवृत्त होने लगे।


चार-पांच महिलाएं व दो-तीन अन्य यात्री बस के सामने सडक़ के किनारे बैठ गये। बमुश्किल 10 मिनट बाद ही विपरीत दिशा से आ रहा ट्रॉलर आरजे 01-जीबी 669 इस बस में आ टकराया। बस में टकराते हुए ट्रॉलर ने उसके सामने बैठी तीन महिलाओं व दो अन्य यात्रियों को चपेट में ले लिया। पुलिस ने बताया कि इस हादसे में मोतीसर गांव निवासी चानादेवी (45) पत्नी मेहरचन्द , भंवरीदेवी (30) पत्नी धर्मपाल तथा दुदवा खारा निवासी गीतादेवी (52) पत्नी भंवरलाल की दर्दनाक मौत हो गयी। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची ।मृतक महिलाओं के शवों को लगभग एक घण्टे की कड़ी मेहनत के बाद बस से बाहर निकलवाकर मोर्चरी रूम में रखवाया। घायलो को चूरू रेफर किया है। घटना के बाद ट्रोला चालक ट्रोला छोडक़र फरार हो गया। राजगढ़ पुलिस ने बताया कि ओमप्रकाश जाट की रिपोर्ट पर ट्रॉलर के चालक पर लापरवाही बरतने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है। तीनों मृतक महिलाओं के शव पोस्टमार्टम करवाने के बाद परिवार वालों को सौंप दिये गये हैं। चूरू में उपचाराधीन दोनों घायलों की हालत खतरे से बाहर बताई जाती है।
Tags

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.