फतेहगढ़ साहिब के एतिहासिक गुरुद्वारा श्री दीवानगढ़ साहिब छावनी बुढ़ा दल में वीरवार देर रात को एक निहंग सिंह ने दूसरे निहंग सिंह पर गंडासे से वार कर उसका सिर कलम कर दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी गंडासा लेकर गुरुद्वारा साहिब के गुंबद पर चढ़ गया और खूब हंगामा किया। पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद आरोपी निहंग सिंह चरणजीत सिंह (40) को नीचे उतार कर गिरफ्तार कर लिया है। मृतक की पहचान प्यारा सिंह (45) पुत्र सोहन सिंह के तौर पर हुई है। थाना फतेहगढ़ साहिब के एसएचओ कंवलजीत सिंह ने बताया कि आरोपी पर मामला दर्ज कर लिया गया है। शव को फतेहगढ़ साहिब के सिविल अस्पताल के शव गृह में रखवा दिया गया है। हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है। जानकारी के अनुसार मृतक प्यारा सिंह हरियाणा के जिला फतेहाबाद के रतिया का रहना वाला था। वह पिछले 15 साल से गुरुद्वारा साहिब में सेवा कर रहा था। दोनों निहंग सिहों में वीरवार रात में आपस में लड़ाई हुई। इसके बाद मामला इतना बढ़ा कि निहंग चरणजीत सिंह ने प्यारा सिंह का सिर धड़ से अलग कर दिया। इसके बाद चरणजीत सिंह गुरुद्वारा साहिब के गुबंद पर चढ़ गया।

"> पुलिस ने उसे समझाने का काफी प्रयास किया, लेकिन वह नीचे उतरने को तैयार नहीं था। काफी मशक्कत के बाद पुलिस ने आरोपी निहंग सिंह को नीचे उतार काबू किया।


Kamjor dil wale video na dekhe----
Tags ,

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.