नई दिल्ली| इन दिनों सोशल मीडिया पर एक चौंकाने वाली ख़बर तेजी से वायरल हो रही है. इस ख़बर के मुताबिक 12 अगस्त 2017 को रात नहीं होगी. यानी रात में भी दिन की तरह उजाला रहेगा. ये ख़बर फेसबुक से लेकर व्हटसैप तक शेयर की जा रही है. बतौर सबूत, अखबारों की कटिंग शेयर की जा रही है जिसमें इस तरह की हैडिंग है “12 अगस्त को नहीं होगी रात!” तो क्या वाकई ये ख़बर सही है, या कोई और ही बात है?






क्या है ख़बर का सच?


 12 अगस्त को उल्कापात (मेट्योर शावर) तो होगा जिसके चलते रात में थोड़ा उजाला दिखेगा. ध्यान दीजिए, थोड़ा उजाला. ऐसी बात नहीं की गई है कि रात नहीं होगी. और हां, ये अब तक के इतिहास का सबसे ज्यादा उजाले वाला उल्कापात नहीं होगा. ये जानकारी नासा की वेबसाइट पर बताई गई है. यहां ये जानना जरूरी है कि हर साल तीन बड़े मेट्योर शावर्स होते हैं. इनमें से पहला शावर जनवरी में, दूसरा शावर परसिड अगस्त में और आखिरी शावर जेमिनिड्स दिसंबर के महीने में नजर आता है.

Tags ,

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.