पिता की पहले हो चुकी है मौत, किराए के घर में रहने वाली  मां व बहनें करती हैं लोगों के घरों में काम


 एतिहासिक शहर श्री मुक्तसर साहिब की भुल्लर कालोनी में स्थित गली नंबर सात के निवासी महज 19 साल के युवा ने नशे की लत के चलते फंदा लगाकर अपनी जान दे दी। उक्त युवक लखविंदर सिंह उर्फ सोनू स्मैक का आदी था तथा बठिंडा के किसी पैलेस में काम करता था। घर में मौजूद उसकी छोटी बहनों गगनदीप कौर व चरनजीत कौर ने बताया कि उनके पिता करम सिंह की करीब दस साल पहले मौत हो चुकी है। उनका भाई बठिंडा में रहता था तथा स्मैक की लत का शिकार था। वह दोनों बहने अपनी करीब 50 वर्षीय मां परमजीत कौर सहित एक किराए के घर में रहती हैं तथा लोगों के घरों में साफ सफाई का काम कर घर का गुजर बसर करती हैं। चार पांच दिन से वह यहां आया हुआ था तथा लगातार अपने एक दोस्त के साथ नशा कर रहा था। उनके अनुसार वह उनसे नशे के लिए पैसे मांगता था तथा दो दिन पहले घर की पेटी का ताला तोडक़र पैसे ले गया था तथा महालम नामक किसी गांव से स्मैक लाने के बाद दोनो दोस्त पीते रहे। मंगलवार को सुबह करीब साढ़े दस बजे वह तीनों मा बेटी काम पर चली गई था करीब 11 बजे सोनू ने पंखे से



फंदा लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। इस दौरान बड़ी बहन चरनजीत जब घर आई तो उसने अपने भाई को अर्धनग्र हालत में पंखे से झूलता देखा तो उसके पांवों तले से जमीन खिसक गई। घटना का पता लगने पर मौके पर पहुची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है। 
Tags

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.