जेल बंदियों ने देश-भक्ति के गीत गाकर माहौल को देश-भक्ति के रंग में रंगा

बरनाला,(रोमी)-

एडीजीपी जेल, पंजाब इकबालप्रीत सिंह सहोता के दिशा निर्देश तहत जेल बंदियों में देश भक्ति का जजबा पैदा करने सबंधी जिला सुधार घर बरनाला में जेल सुपरिटेडेंट एसपी कुलवंत सिंह के नेतृत्व में जेल बंदियों ने भारत का ७०वां स्वतंत्रता दिवस मनाया।  पहली बार किसी जेल के बंदियों द्धारा राष्टीय गान का उच्चारण किया गया और मार्च पास्ट कर राष्ट्रीय झंडे को सलामी दी। इस मौके जेल बंदियों ने ,,राजगूरू, सुखदेव, भगत सिंह हस के चढ़ गए फांसी,, व ,,भुल ना जाइयो उहनां दी कुर्बानी, आजादी लई वार दिती जिहनां जिंदगानी,, आदि देश-भक्ति के गीत गाकर जेल के माहौल को देश-भक्ति के रंग में रंग दिया और जेल बंदियों व जेल स्टाफ ने भारत माता की जय के जैकारे लगाए। जेल सुपिरटेडेंट कुलवंत सिंह ने जेल बंदियों को संबोधन करते हुए कहा कि हम शहीदों की कुर्बानी का देन नहीं दे सकते, जिनकी कुर्बानियों की बदौलत हम आजादी मान रहे हैं। लेकिन बड़े दुख की बात है कि आज की नौजवान पीढ़ी इन महान वीरों की कुर्बानी को भूल व आजादी का गल्त फायदा उठा नशे के आदी हो रहे हैं। जेल बंदियों ने राष्ट्रीय झंडे के समक्ष खड़े होकर गल्त काम व नशे ना करने का प्रण लिया। बाद में सभी बंदियों ने कृष्ण जन्म अष्टमी के त्यौहार के उपलक्ष्य में जेल के अंदर बने मंदिर में माथा टेका और जेल स्टाफ व जेल बंदियों  ने पंगत में बैठ कर लंगर भी छका।
इस मौके भलाई अफसर कम सहायक सुपरिटेडेंट तेजिंदर सिंह चंडिहोक, विहान इंटरप्राइजस के एमडी विजय गर्ग, सुरजीत सिंह धालीवाल, हरमनप्रीत सिंह सहोता, बलजिंदर सिंह व अन्य उपस्थित थे।





Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.