स्कूली छात्र को कुचलने के बाद पलटी सवारियों से भरी राजस्थान रोडवेज की बस - BTTNews

ताजा अपडेट

�� बी टी टी न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें bttnewsonline@yahoo.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 7035100015 पर

Friday, August 04, 2017

स्कूली छात्र को कुचलने के बाद पलटी सवारियों से भरी राजस्थान रोडवेज की बस


छात्र की दर्दनाक मौत, कुछ यात्री घायल



श्रीगंगानगर जिले में दूरवर्ती घड़साना-रावला मार्ग पर आज दोपहर एक स्कूली छात्र को कुचलते हुए राजस्थान रोडवेज की बस पलट गई। बस के चालक ने साइकिल सवार स्कूली छात्र को बचाने की भरपूर चेष्टा की, लेकिन फिर भी बस का पिछला हिस्सा छात्र के जा टकराया, जिससे वह बुरी तरह से जख्मी हो गया। अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। जानकारी के अनुसार यह बस रावला से घड़साना जा रही थी। हनुमानगढ़ डिपो की यह बस दोपहर डेढ़ बजे रास्ते में आरडी 297 की पुलिया के पास पहुंचने वाली थी। तभी इस मेन रोड से चक 5 पीएसडी को जाने वाली लिंक रोड की ओर से साइकिल सवार छात्र कन्हैया पुत्र धन्नाराम बावरी निवासी चक 2 पीएसडी अचानक आ गया। बस के चालक ने उसे बचाने की कोशिश की। स्वयं कन्हैया भी एकाएक बस को देखकर घबरा गया। वह रोड से हट नहीं पाया। चालक ने उसे बचाने के प्रयास में बस को बड़ी तेजी से दूसरी तरफ मोड़ा, जिससे वह नियंत्रण खो बैठा। पलटते हुए बस का पिछला हिस्सा कन्हैया के लगा, जिसकी फटकार लगने से वह बुरी तरह जख्मी हो गया। बस के पलट जाने से उसमें



सवार यात्रियों में चीत्कार मच गया। जैसे-तैसे यात्री बाहर निकले। रोड से गुजर रहे अन्य वाहनों में सवार लोगों ने भी उनको बाहर निकालने में मदद की। इसी बीच इस बस के चालक ने वहां आई एक अन्य बस को रुकवाकर घायल छात्र कन्हैया को नई मण्डी घड़साना के सरकारी अस्पताल भिजवाया, लेकिन वहां उसकी मौत हो गई। बस के घायल हुए तीन-चार यात्रियों को भी इलाज के लिए अस्पताल में ले जाया गया। इनमें दो महिलाएं भी शामिल थीं। इन घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी मिल गई। हादसे की जानकारी मिलने पर पुलिस ने मौके पर आकर कार्रवाई की। अपराह्न बाद कन्हैया का शव पोस्टमार्टम करवाकर परिवार वालों को सौंप दिया गया। चक 2 पीएसडी निवासी कन्हैया रोजाना करीब 9 किमी दूर सरकारी सीनियर सैकण्डरी स्कूल में पढऩे के लिए जाया-आया करता था। वह कक्षा 11 में पढ़ता था। उसके भाई ओमप्रकाश द्वारा दी गई रिपोर्ट के आधार पर बस चालक पर लापरवाही बरतने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है।

No comments:

Post a Comment