भारत की पहली तेज रफ्तार बुलेट ट्रेन पर काम शुरू - BTTNews

Breaking

�� बी टी टी न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें bttnewsonline@yahoo.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 7035100015 पर

Friday, September 15, 2017

भारत की पहली तेज रफ्तार बुलेट ट्रेन पर काम शुरू


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने अहमदाबाद से मुंबई के बीच देश की पहली हाई स्पीड ट्रेन परियोजना की रखी आधारशिला। पीएम मोदी ने इस परियोजना को बताया नए भारत का प्रतीक। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने कल अहमदाबाद और मुंबई के बीच चलने वाली भारत की पहली तेज रफ्तार बुलेट ट्रेन के लिए साबरमती स्‍टेशन पर भूमि पूजन कर परियोजना की शुरुआत की। यह ट्रेन 7 घंटों का सफर दो घंटे में तय करेगी। इस परियोजना के साल 2022 तक पूरी होने की संभावना है। जापान ने इस महत्वाकांक्षी परियोजना के लिए कम दर पर कर्ज दिया है।
परियोजना के पूरा होने के बाद भारत बुलेट ट्रेन वाले गिने-चुने 15 देशों में शामिल हो जायेगा। इस मौके पर दोनों नेताओं ने बुलेट ट्रेन के लिए वडोदरा में स्‍थापित किए जाने वाले तेज रफ्तार रेल प्रशिक्षण संस्‍थान की भी आधारशिला रखी। पीएम मोदी ने इस परियोजना को जापान की ओर से भारत को सबसे बड़ा तोहफा बताया। पीएम ने कहा कि बुलेट ट्रेन से न सिर्फ आर्थिक बल्कि सामाजिक बदलाव की भी शुरूआत होगी। पीएम मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने अहमदाबाद से मुंबई के बीच चलने वाली भारत की पहली बुलेट ट्रेन परियोजना का भूमिपूजन किया तो देश का ये सपना साकार होने की दिशा में एक और कदम आगे बढा। दोनों नेताओं ने साबरमती रेलवे स्टेशन के पास स्थित एथलेटिक स्टेडियम में 1.10 लाख करोड़ रुपये की लागत वाली इस हाईस्पीड ट्रेन परियोजना की बटन दबाकर शुरुआत की घोषणा की। भारत की ये क्रांतिकारी रेल परियोजना जापान इंटरनेशनल कॉर्पोरेशन एजेंसी यानी जेआइसीए और रेल मंत्रालय मिलकर पूरा करेंगे। इस मौके पर पीएम ने बुलेट ट्रेन को न्यू इंडिया के संकल्प का प्रतीक बताते हुए कहा कि इससे तेज गति, तेज प्रगति तेज प्रौद्योगिकी और तेज परिणाम आएंगे। पीएम ने इस परियोजना में बेहद कम ब्याज दर पर लोन देने के लिए जापान का आभार जताते हुए कहा कि जापान जैसा दोस्त नहीं मिल सकता। जापानी प्रधानमंत्री ने पीएम मोदी और गुजरात की जोरदार तारीफ की और कहा कि वो भारत में बुलेट ट्रेन के शिलान्यास से बेहद खुश हैं। आबे ने न्यू इंडिया के संकल्प में जापान को अपना साथी चुनने के लिए पीएम मोदी का शुक्रिया अदा किया और उम्मीद जतायी कि कुछ साल। जब फिर से भारत आएं तो उन्हें इस पीएम मोदी के साथ बुलेट ट्रेन के सफर का मौका मिले। 508 किलोमीटर लंबे इस प्रोजेक्ट का 92 प्रतिशत हिस्सा यानि 468 किलोमीटर का मार्ग एलीवेटेड होगा। मुंबई से अहमदाबाद रूट पर 12 स्टेशन होंगे, जिनमें चार महाराष्ट्र में और आठ गुजरात में होंगे। बुलेट ट्रेन 21 किलोमीटर समुद्र के नीचे सुरंग में दौड़गी।
 पीएम ने इस मौके पर बुलेट ट्रेन के फायदे गिनाते हुए कहा कि इससे न केवल कनेक्टिवटी मजबूत होगी बल्कि उससे आर्थिक तरक्की भी आएगी। पीएम ने कहा कि एक ओर इससे मेक इन इंडिया को मजबूती मिलेगी तो दूसरी ओर बडी संख्या में रोजगार आएगा। लोगों को सुविधा और सुरक्षा मिलेगा तो ईधन की बचत होगी और पर्यावरण को फायदा होगा। पीएम ने इस मौके पर बुलेट ट्रेन की आलोचना करने वाले विरोधियों पर भी जमकर निशाना साधा। बुलेट ट्रेन ने जापान समेत कई देशों की की अर्थव्यवस्था की तस्वीर बदलकर रख दी है और माना जा रहा है कि भारत में भी इसके क्रांतिकारी असर देखने को मिलेंगे। पहले कम पैसों में हवाई यात्रा और अब बुलेट ट्रेन पीएम मोदी ने भारत के मध्यवर्ग के सपनों को पंख लगा दिया है।

No comments:

Post a Comment