कोटकपूरा 


दो दिन पहले ही एक महिला की सडक़ हादसे में मौत से गांव थांदेवाला के लोग उबर भी नहीं पाए थे कि गांव की रहने वाली दो सगी बहनों के साथ एक बच्चे की कोटकपूरा के पास हुए सडक़ हादसे में हुई मौत ने गांव दहला दिया। कोटकपूरा के पास हुए उक्त हादसे में मरने वालों में मृतक महिलाओं के मायके से भी दो लोग शामिल हैं। बताया जा रहा है कि यह हादसा कार चालक को नींद आ जाने के कारण हुआ है।
गांव आशा बुट्टर निवासी भूंडी कौर गांव में ही चौकीदारी करने वाले अपने भतीजे तरसेम सिंह के अलावा थांदेवाला रहती बेटियों दविंदर कौर, सोमा कौर तथा तीन दोहतों के साथ मलेरकोटला में बाबा की चौकी भरने के लिए गई थी। लौटते समय कोटकपूरा के पास कार चला रहे तरसेम की आंख लगने से गाड़ी सडक़ पर खड़े एक ट्रक से टकरा गई। इस हादसे में गांव आशा बुटटर निवासी भूंडी कौर, उसकी दोनों बेटियां दविंदर कौर व सोमा तथा दोहता लखवीर व भतीजा गाड़ी चालक तरसेम सिंह की मौके पर ही मौत हो गई जबकि देविंदरं कौर के दो बेटे लवहीरा व लवप्रीत की गंभीर हालत के चलते उन्हें फरीदकोट रेफर किया गया है। सुबह पांच बजे हुए उक्त हादसे का समाचार गांव थांदेवाला में करीब छह बजे जब पहुंचा तो घर में कोहराम मचने के साथ समूचे गांव में शौक की लहर दौड़ गई। दविंदर कौर के घर पर उसकी करीब सत्तर वर्षीय सास महिंदर कौर तथा दोनों बेटियों का जहां रो रोकर बुरा हाल था वहीं ससुर मुक्खा सिंह पत्थर बना जमीन को निहारते हुए होनी को कोस रहा था।




Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.