Type Here to Get Search Results !

एक और बाबा पर यौन शोषण का आरोप

राजस्थान के अलवर जिले के एक नामचीन बाबा जगदगुरु रामानुजाचार्य स्वामी कौशलेंद्र प्रपन्नाचारी फलाहारी महाराज के खिलाफ छत्तीसगढ के बिलासपुर निवासी युवती ने दुष्कर्म का अपराध दर्ज कराया है। बिलासपुर के महिला थाने में बाबा के खिलाफ दुष्कर्म का अपराध दर्ज कर केस डायरी अलवर पुलिस के पास भेजी गई है। अब फलाहारी बाबा को भी पुलिस गिरफ्तार करने की तैयारी में है।
जगदगुरु रामानुजाचार्य स्वामी कौशलेंद्र प्रपन्नाचारी फलाहारी महाराज अलवर में दिव्याम आश्रम चलाता है। यहां एक वेद विद्यालय और मंदिर भी है। महाराज के भक्तों की संख्या काफी है। उसका छत्तीसगढ़ में भी आना-जाना रहता है और उसके वहां भक्त हैं। महाराज पर आरोप लगाने वाली बिलासपुर की रहने वाली यह युवती जयपुर में पढ़ाई कर रही है। महाराज की सिफारिश पर इस युवती ने कहीं इंटर्नशिप की और इसके लिए उन्हें स्कालरशिप भी मिली। मानदेय महाराज को अर्पित करने के लिए ही वह अगस्त माह में अपने माता-पिता के साथ अलवर स्थित आश्रम गई थी।घटना 7 अगस्त की है। युवती का आरोप है कि बाबा ने उसे अकेले बुलाया और अपने चेलों को बाहर कर दिया। वह अकेली पाकर युवती से दुष्कर्म करने लगा। इसी बीच बाबा का कोई चेला पहुंच गया। इस दौरान युवती को इस बारे में किसी को कुछ नहीं बताने की धमकी दी गई। डरी-सहमी युवती भी चुपचाप लौट गई।हाल ही में गुरमीत राम रहीम का मामला सामने आने के बाद युवती की हिम्मत बढ़ी और उसने अपने परिजन को इस बारे में जानकारी दी। परिजन ने बिलासपुर में पुलिस के आला अकिारियों से अपनी पीड़ा बताई और इस मामले में आपराधिक प्रकरण दर्ज करने की मांग की।चूंकि, मामला लोगों की आस्था से जुड़े प्रसिद्ध बाबा का था। इसलिए पुलिस ने गोपनीयता से इस मामले की जांच की। फिर 11 सितंबर को महिला थाने में शून्य पर दुष्कर्म का अपरा दर्ज कर केस डायरी अलवर थाने में भेज दी गई। यह रिपोर्ट अब अलवर पुलिस के पास पहुंच गई। अलवर के पुलिस अधीक्षक राहुल प्रकाश का कहना है कि हमारे पास बिलासपुर से रिपोर्ट आई है। वहां की पुलिस ने प्राथमिक जांच पूरी कर ली है और अब हम आगे की जांच करेंगे।   

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.