वीडियो शीघ्र अपडेट
श्री मुक्तसर साहिब
शहर के रेलवे रोड पर राह चलते लोगों के कदम उस समय थम गए जब अचानक से पहुंची पुलिस ने संदिज्ध हालातों में एक युवक को आकर घेर लिया। हालांकि मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों की बातों से साफ पता चल रहा था कि उक्त युवक को पुलिस ने चिट्टा होने के संदेह में पकड़ा था, लेकिन बाद में उसे छोड़ दिया गया। हालांकि छोड़े जाने की वजह उसके पास से कुछ बरामद न होना बताया जा रहा है, लेकिन यदि उसके पास कुछ बरामद ही नहीं हुआ था तो फिर मौके से पुलिस उसे कार में बैठाकर ही क्यों लेकर गई?  


जानकारी के अनुसार रविवार की सुबह करीब पौने 12 बजे रेलवे रोड पर स्थित एलआईसी आफिस के सामने अचानक से सीआईए स्टाफ की पुलिस ने एक युवक को संदिग्ध हालत में घेर लिया। पकडऩे वाले पुलिस कर्मचारियों ने उसे चिट्टे की पुडी फेंककर भागने का प्रयास करने की बात कही। इसी बीच युवक ने अपने पिता को भी बुला लिया, लेकिन सीआईए स्टाफ के एएसआई सुरजीत सिंह व हवलदार जालंधर सिंह सहित मौके पर मौजूद कर्मचारी उसे बाजू से पकड़ कर ले जाते हुए कार में बिठाकर अपने साथ ले गए। इस संबंध में संपर्क करने पर हवलदार जालंधर सिंह ने कहा कि उसके पास खाने पीने जितना ही सामान था, जिसका कोई पर्चा नहीं बनता जिसके चलते उसे छोड़ दिया गय, जबकि सीआईए स्टाफ के प्रभारी प्रताप सिंह का कहना था कि पुलिस के उच्च अधिकारियों सहित जांच में युवक के पास से महज खाली पन्नी बरामद हुई थी। उनके अनुसार फिलहाल पुलिस ने उसको छोड़ दिया है, लेकिन फिर भी तहकीकात जारी रहेगी ताकि उसके माध्यम से पुलिस तह तक पहुंच सके।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.