चंडीगढ़

बलात्कार के आरोपों का सामना कर रहे पंजाब के पूर्व मंत्री और शिरोमनी अकाली दल के सीनियर नेता सुच्चा सिंह लंगाह ने चंडीगढ़ ज़िला अदालत में आत्म समर्पण कर दिया है। पिछले कुछ दिनों से निवर्तमान अकाली भाजपा सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री सुच्चा सिंह लंगाह पर लगे बलात्कार के आरोपों ने जहां राजनैतिक गलियारों में हलचल मचा कर रखी हुई, वहीं आम लोगों में भी डेरा सच्चा सौदा प्रमुख के बाद लंगाह ही मुख्य चर्चा का विषय बना हुआ है। एक महिला की ओर से गुरदासपुर चुनाव से ठीक पहले जहां जबरन दुष्कर्म के आरोप पूर्व मंत्री पर लगाए हैं, वहीं दोनों की अश्लील वीडियो भी सोशल साइट्स और वाटसअप पर जमकर वायरलज हो रही हैं।  सुच्चा सिंह लंगाह ने चण्डीगढ़ सैक्टर 43 ज़िला अदालत में ड्यूटी मैजिस्ट्रेट हृदयजीत सिंह के सामने आत्म समर्पण किया है। लंगाह के वकील दमनबीर सिंह सोबती और हरप्रीत सिंह बराड़ ने कहा कि उन को पंजाब पुलिस पर बिल्कुल भरोसा नहीं है क्योंकि बलात्कार का यह केस राजनैतिक रंजिश के तहत दर्ज किया गया है। चण्डीगढ़ में आत्म समर्पण करने की मुख्य वजह यही है कि पंजाब पुलिस उनको नाजायज हिरासत में लेकर तंग परेशान ना करे। चण्डीगढ़ अदालत की तरफ से लंगाह के वकीलों का पक्ष सुनने के बाद फ़ैसला आरक्षित रख लिया गया है। लंगाह ने कहा कि उन को देश और न्याय प्रणाली पर पूरा भरोसा है और जल्द ही सच्च सभी लोगों के सामने आ जायेगा। हांलाकि सुच्चा सिंह की तरफ से अपने सभी ओहदों से इस्तीफे दे दिए गए थे और पार्टी प्रधान सुखबीर सिंह बादल की तरफ से उन्होंने इस्तीफे को मंज़ूर कर लिया गया था।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.