श्री मुक्तसर साहिब के इतिहास में पहली बार पटाखे बेचने वालों को लाटरी सिस्टम से लाइसेंस जारी किए गए। प्रशासन ने पूरी पारदर्शिता के साथ लाइसेंस जारी करते हुए स्पष्ट शब्दों में हिदायत दी कि बिना लाइसेंस के कोई भी पटाखे नहीं बेचेगा। लाइसेंस के बिना ही नहीं बल्कि निर्धारित जगहों के अतिरिक्त कहीं और गली मोहल्लों में पटाखे बेचते पाए जाने पर भी पटाखा विक्रेताओं के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। एडीसी राजपाल सिंह के नेतृत्व में पटाखों के लाइसेंस जारी किए गए, इस दौरान जिन लोगों को लाइसेंस जारी नहीं हुआ लेकिन उनके पास पटाखे हैं वो एडीसी राजपाल सिंह से हल पूछते नजर आए। चाहे हाइकोर्ट के आदेशों पर प्रशासन ने लाइसेंस जारी करने के साथ पटाखे बेचने के लिए जगह भी निर्धारित कर दी पर अब देखना यह होगा कि प्रशासन का रवैया कितना सख्त रहेगा और क्या प्रशासन द्वारा निर्धारित जगहों पर ही पटाखे बिक पाएंगे या हर बार की तरह कानून की सरेआम धज्जियां ही उड़ेंगी।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.