श्री मुक्तसर साहिब



वीरवार की सुबह गिद्दड़बाहा के गोशाला रोड पर संदिग्ध अवस्था में मिले मुक्तसर के ट्रक मामले ने नया मोड़ ले लिया है। ट्रक से बंधे हुए मिले ड्राइवर ने पुलिस की पूछताछ में ही अपने तीन साथियों समेत मिलकर मालिक की हत्या करने का जुर्म कबूल लिया है। जानकारी के अनुसार 27 नवंबर की रात को करीब दस बजे मुक्तसर की जलालाबाद रोड से नीरज कुमार बाघला (35) पुत्र कृष्ण कुमार बाघला निवासी गुरु नानक कालोनी जलालाबाद रोड बाइपास अपने ट्रक नंबर पीबी 30आर 9238 में डीएपी खाद भरकर जलालाबाद रोड निवासी ड्राइवर कमलदीप ¨सह के साथ सरदूलगढ़ की मंडी के लिए रवाना हुआ था। यह ट्रक सुबह तीन बजे सरदूलगढ़ की मंडी में पहुंच गया जोकि पुलिस की ओर से सीसीटीवी फुटेज जांचने में पता चला है। 

बाद में यह ट्रक वहां से गायब हो गया और जिस दुकान पर जाना था वहां नहीं पहुंचा। तीन दिन के बाद शुक्रवार की सुबह यह ट्रक डीएपी खाद से भरा हुआ ही गिद्दड़बाहा की गोशाला रोड पर से मिला। ट्रक की सीट पर ही ड्राइवर कमलदीप ¨सह (19) भी रस्सी से बंधा हुआ था जबकि एक सीट पर खून के धब्बे थे। पुलिस को यह मामला हत्या का लगा। इस कारण थाना गिद्दड़बाहा व मुक्तसर की पुलिस ने ट्रक को कब्जे में लेकर इसकी जांच शुरु कर दी।पुलिस  ने इसे कत्ल का मामला मानते हुए जांच शुरू की। जैसे ही पुलिस ने ड्राइवर से पूछताछ शुरु की तो उसने अपना जुर्म कबूल लिया। डीएसपी गिद्दड़बाहा राजपाल सिंह ने बताया कि कमलदीप ¨सह ने कत्ल का जुर्म कबूलते हुए अपने साथ तीन अन्य मुक्तसर के लोगों का होना भी माना है जिनकी अभी तक पहचान नहीं हो पाई है। पुलिस ने कमलदीप नीरज बाघला का शव बरामद कर लिया है। डीएसपी के अनुसार दूसरे आरोपियों की तलाश के लिए भी टीम रवाना कर दी गई है।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.