Type Here to Get Search Results !

खाली पेट पढने को मजबूर बच्चे


पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के ग्रह जिला श्री मुक्तसर साहिब के मलोट हलके में पांचवी कक्षा तक के बच्चों को मिड डे मील के रूप में दोपहर के समय मिलने वाला खाना अब नहीं मिल रहा। हालांकि कुछ समय तो अध्यापक अपनी जेब से भी खाना उपलब्ध कराते रहे, लेकिन अब उनके हाथ खड़े हो गए हैं और हैरानीजनक है कि महज 4 रुपये में एक बच्चे को मिलने वाले इस खाने के लिए केंद्र ओर राज्य सरकारें फंड तक मुहैया करवाने में असफल होकर रह गई हैं। बीटीटी टीम द्वारा पूछने पर मिड डे मील इंचार्ज टिंकू बाला ने फंडों के अभाव को इसकी वजह बताते हुए कहा कि .. उधर अध्यापक राकेश कुमार ने कुछ समय अपने जेब से खर्च करने संबंधी बताते हुए कहा कि.. सरकारी स्कूलों में तरह तरह की सुविधाएं उपलब्ध करवाने के दावे करने वाली सरकारों की इस अनदेखी के कारण हालात यह है कि कुछ बच्चे चाहे अपने टिफिन लेकर आते हैं, लेकिन अधिकांश निर्धन परिवारों के बच्चों को खाली पेट ही दिनभर पढ़ाई करनी पड़ती है। देखना होगा कि सरकार कब तक बच्चों को पेश आ रही समस्या पर ध्यान देना मुनासिब समझती है.

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.