सुखबीर बादल बोले चार साल बाद पर्चियां दीया पर्चीयां बना देवांगे - BTTNews

Breaking

�� बी टी टी न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें bttnewsonline@yahoo.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 7035100015 पर

POLL- PM KON ?

Friday, December 29, 2017

सुखबीर बादल बोले चार साल बाद पर्चियां दीया पर्चीयां बना देवांगे



 अकाली दल पर्चे केसों से नहीं डरता

श्री मुक्तसर साहिब,  29 दिसंबर  स्थानीय भाई महां सिंह दीवान हाल में शिरोमणि अकाली दल की जिला स्तरीय बैठक जिलाध्यक्ष विधायक कंवरजीत सिंह रोजी बरकंदी की अध्यक्षता में हुई। जिसमें राज्य के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल विशेष तौर पर पहुंचे। बैठक से पहले मेला माघी कांफ्रंैस वाली जगह का जायजा लेते हुए सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि इस बार शिरोमणि अकाली दल भाजपा द्वारा बड़े स्तर पर माघी कांफ्रैंस आयोजित की जाएगी। इस उपरांत बैठक को संबोधित करते हुए सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि अकाली दल पर्चे केसों से नहीं डरता, चार साल बादल फिर से अकाली दल की सरकार आने वाली है तब इन पर्चों को पर्चियां बनाकर रख देंगे। इसके अलावा उन्होंने कांग्रेस सरकार को नास्तिक बताते हुए कहा कि पंजाब सरकार की छुट्टियां काटकर गुरुओं पीरों में विश्वास ना रखने का प्रमाण दिया है। 


बादल ने पुलिस अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि कांग्रेस नेताओं के पीछे लगकर अकाली नेताओं पर बेवजह मामले दर्ज ना करें तथा ना ही धमकाएं क्योंकि समय सदा एक सा नहीं रहता। उन्होंने अपने पास एक डायरी लगा रखी है तथा सरकार आने पर एक माह के अंदर अंदर ज्यादती करने वाले अधिकारियों के खिलाफ बनती कार्रवाई की जाएगी। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पर चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा कि जो मुख्यमंत्री एक साल में एक बार भी अपने कार्यालय में नहीं जा सकता वह क्या राज्य का भला करेगा? पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने जिला मुक्तसर को सेम से निकालने के लिए तीन हजार करोड़ रुपये खर्च कर दिए, जबकि मरहूम मुख्यमंत्री हरचरण सिंह बराड़ तो मुख्यमंत्री होते हुए अपने गांव सराएनागा को भी सेम से नहीं बचा पाए। कैप्टन के किसानों के 90 हजार करोड़ रुपये समूचे कर्ज को माफ करने के किए वादे को पूरा करने के बजाय मात्र 25 करोड़ रुपये के कर्ज माफ कर अपनी पीठ थपथपाते हुए किसानों के साथ धोखा किया जा रहा है। बादल ने कहा कि अभी से संसदीय चुनाव की तैयारियां शुरू कर देनी चाहिए, क्योंकि अकाली भाजपा ने कम से कम 12 सीटें जीतनी हैं। इस दौरान जिला प्रधान एवं विधायक कंवरजीत सिंह रोजी बरकंदी ने राज्य सरकार को कोसते हुए कहा कि पंजाब में कानून नाम की कोई चीज नहीं महज जंगल राज है, लेकिन इसके बावजूद कार्यकर्ताओं का जोश कम नहीं हुआ है।

 



 

No comments:

Post a Comment