शिअद बादल और शिअद मान करेंगे काफ्रेेंस, सत्कार कमेटी करेगी विरोध

श्री मुक्तसर साहिब
मेला माघी पर पिछली बार जहां चुनावों के चलते सियासी कांफ्रेंसें नहीं हो पाई थी वहीं इस बार कांफ्रेंसों को लेकर टकराव के आसार नजर आने लगे हैं।  शिरोमणि अकाली दल बादल तथा शिरोमणि अकाली दल अमृतसर (मान ग्रुप) की और से सियाी कांफ्रेंस करने की घोषणा की गई है जबकि श्री गुरु ग्रंथ साहिब सत्कार कमेटी ने कांफ्रेेंसों ना होने देने का आह्वान करते हुए विरोध की घोषणा की है। 


 गौरतलब है कि 14 जनवरी को मेला माघी पर हर साल राजनैतिक पार्टियों द्वारा कांफ्रेंसों का आयोजन कर मेले में जुटने वाली भीड़ का सियासी लाभ उठाया जाता है। पिछले साल मेला माघी पर चुनाव आचार संहिता लागू होने के चलते कांफ्रेंसों का खर्च चुनाव खर्च में जुडऩे के डर से सियासी पार्टियों ने कांफ्रेंस न करने का फैसला किया था। इस बार कांग्रेस तथा आम आदमी पार्टी द्वारा पहले ही कांफ्रेंस न करने की घोषणा की जा चुकी है, जबकि शिरोमणि अकाली दल बादल द्वारा पिछले दिनों कांफ्रेंस को लेकर पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर चुके हैं। बुधवार को श्री गुरु ग्रंथ साहिब सत्कार कमेटी ने मार्च निकाल कर जहां प्रशासन को मांग पत्र सौंपा वहीं कांफ्रेंसें न लगने देने की मांग उठाई वहीं कांफ्रेंस होने की सूरत में विरोध करने की घोषणा भी की है, जबकि उधर शिअद अकाली दल अमृतसर द्वारा वीरवार को बैठक दौरान जहां सत्कार कमेटी को आरएसएस वाले करार दिया वहीं हर हालत में कांफ्रेंस की घोषणा की है, जिसके चलते मेले दौरान टकराव की आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता। 

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.