सरावां बोदला (श्री मुक्‍तसर साहिब)


पुलिस प्रशासन और दुनिया में मशहूर विक्की गौंडर, परिवार के लिए उनका अपना लाड़ला जिंदर था, अपने इकलौते भाई को दूल्हे के रूप में देखने का संपना संजोए बहनों ने अपनी यह आरजू मृत भाई के माथे पर सेहरा सजाकर अंतिम विदाई देते हुए पूरी की। सेहरे में सजे जिंदर के शव को देखकर परिवार की महिलाओं का रो रोकर बुरा हाल नजर आया। अंतिम संस्कार में रिश्तेदारों के अलावा गांव सरावां बोदला ही नहीं बल्कि आस पास के गांवों के लोग भी उमड़े दिखाई दिए। बच्चों से लेकर बूढों तक जैसे हर सख्श ही जिंदर को अंतिम विदाई देने चला आया हो। पुलिस की सख्त सुरक्षा में गौंडर उर्फ जिंदर का अंतिम संस्कार किया गया। गौंडर की अंतिम रस्मों के साथ ही परिवार की उसके मुख्य धारा में लौटने की उम्मीदों का भी अंत हो गया।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.