सिविल अस्पताल में गांव उदयकरण के सरपंच गुरलाभा सिंह व अन्य गांववासियों के साथ मौजूद मृतका के पिता कुलवंत सिंह ने बताया कि उसकी बेटी पवनदीप कौर (28) का विवाह गांव चक्क शेरेवाला के निवासी अजय कुमार के साथ करीब 9 साल पहले हुआ था। उसके अनुसार अजय श्री मुक्तसर साहिब शहर में ही डेटिंग-पेटिंग का काम करता है। मृतका पवनदीप के पिता के अनुसार अजय के अपने किसी रिश्तेदार महिला के साथ कथित तौर पर अवैध संबंध हैं तथा पवनदीप अपने पति को उक्त अनैतिक संबंधों से रोकती थी। अपने पति अजय को अवैध संबंधों से रोकने के चलते अजय ने उसके साथ कई बाद मारपीट भी की थी, जिसके चलते पवनदीप कुछ दिन गांव उदेकरण भी आकर रही थी, लेकिन पंचायती तौर पर समझा बुझाकर वह लोग उसे वापस अजय के पास छोड़ गए थे। कुलवंत सिंह के अनुसार वीरवार को सुबह उन्हें अजय का फोन आया कि पवन की तबीयत खराब हैं और वह उसको सिविल अस्पताल में लेकर आया है, लेकिन जब वह और उसकी पत्नी वीरपाल कौर सिविल अस्पताल में पहुंचे तो उन्हें अपनी बेटी की मौत के बारे में पता लगा तो उनके पांवों तले से जमीन खिसक गई। कुलवंत सिंह के अनुसार पवनदीप को उसके पति ने ही गला दबाकर मौत के घाट उतारा है।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.