गिल कमीशन की पांचवी अंतिृम रिपोर्ट में 41 झूठे केसों की पहचान
गुरदासपुर के पूर्व एस.डी.एम सयाल, दादूवाल विरुद्ध मामला रद्द करने की सिफारिश
चंडीगढ़, 6 फरवरी

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को पेश की अपनी पांचवीं अंतिृम रिपोर्ट में जस्टिस सेवा मुक्त महिताब सिंह गिल्ल जांच कमीशन ने 41 मामलों में पर्चें रद्द करने की सिफारिश की है। इसी के साथ इन केसों की संख्या 258 हो गई है। इस रिपोर्ट में एफ.आई.आर रद्द करने की जिन मामलों की सिफारिश की गई है उन मामलों में विजय सयाल एस.डी.एम गुरदासपुर तथा सिख धर्म प्रचारक बलजीत सिंह दादूवाल के केस भी शामिल है। इन दोनेां केसों को कमीशन ने पूर्व उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल पूर्व माल मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया के आदेशों को मानने से इंकार करने के लिए बदलाखोरी के रूप में दर्ज किए बताया है।

सियाल को विजिलेंस ब्यूरो फरीदकोट की तरफ से झूठी एफआईआर दर्ज करके फसाया था क्योंकि उसने सुखबीर की ओरबिट बस का चालान कर दिया था जिनके पास गृह विभाग का चार्ज भी था। कमीशन को दादूवाल के मामले में 10 नवंबर 2015 को उनके द्वारा दिए भाषण में कोई भी बगावत वाली बात नहीं लगी। गिल्ल ने रिपोर्ट मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को उनके सरकारी निवास स्थान पर पेश की जिसमें 159 शिकायतों में 110 शिकायतें अमलादारी की कमी के कारण रद्द कर दी जा या पूरी तरह मैरिट के आधर पर नहीं थी। मुख्यमंत्री कार्यालय के एक वक्ता ने बताया कि जस्टिस गिल्ल ने मुख्यमंत्री को बताया कि 44 शिकायतों की आज्ञा दी गई है जिनमें एफआईआर रद्द करने के लिए मुख्य तौर पर तजवीज की गई है।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.