पायलट प्रोजैक्ट के तौर पर पटियाला डीपू की बसों पर स्थापित की जाएंगी 300 मशीनें
पी.आर.टी.सी. द्वारा 15 जुलाई तक प्रोजैक्ट शुरू करने के लिए प्रबंधों को अंतिम रूप
चंडीगढ़, 24 जून

पैप्सू रोड ट्रांसपोर्ट कार्पोरेशन (पी.आर.टी.सी.) की तरफ से नई पहल करते हुए बसों की टिकटें ऑनलाइन मशीनों के द्वारा काटने का फ़ैसला किया गया जिसके अंतर्गत बस कंडक्टर द्वारा किसी भी सवारी की टिकट काटे जाने के बाद तुरंत डीपू और मुख्य कार्यालय इसकी ऑनलाइन जानकारी मिल जाया करेगी। पहले पड़ाव में पटियाला डीपू की बसों से 15 जुलाई तक इस पहल की पायलट प्रौजैक्ट के तौर पर शुरुआत की जायेगी जिसके बाद बाकी डीपू की बसों में भी इसको लागू किया जायेगा। यह जानकारी ट्रांसपोर्ट मंत्री श्रीमती अरुना चौधरी ने आज यहाँ जारी प्रैस बयान के द्वारा दी।
श्रीमती चौधरी ने बताया कि इस समय पी.आर.टी.सी. की बसों में टिकटें ऑफलाईन मशीनों द्वारा काटी जा रही हैं जिनका रिकार्ड बस कंडक्टर द्वारा रूट पूरा होने के उपरांत दफ़्तर जाकर मशीन को कंप्यूटर के साथ जोडक़र अपलोड करना पड़ता है जबकि इस नई पहल से बस अड्डों और बस में कंडक्टर के पास ऑनलाइन टिकट मशीन होगी जिस पर टिकट काटते ही टिकट का रिकार्ड ऑनलाइन सीधा सम्बन्धित डीपू और मुख्य कार्यालय के सरवर पर अपलोड हो जायेगा। उन्होंने कहा कि इससे डीपू और मुख्य कार्यालय में बैठे अधिकारियों को बस की टिकटें काटे जाने का रिकार्ड साथ-साथ पता चलता रहेगा और चैकिंग स्टाफ को बस की चैकिंग करनी और भी सुविधाजनक होगी। उन्होंने कहा कि यह प्रणाली भ्रष्टाचार पर नकेल कसने में बेहद कारगर साबित होगी। इससे मुख्य कार्यालय के पास हर बस की सवारियों की संख्या का रिकार्ड और सवारियों के गंतव्य का रिकार्ड भी साथ-साथ अपडेट हेाता रहेगा।
ट्रांसपोर्ट मंत्री ने और विवरण देते हुए बताया कि इस नई पहल को पायलट प्रोजैक्ट के तौर पर पटियाला डीपू से पहले पड़ाव के तौर पर शुरू किया जाएगा जिसके बाद इस प्रोजैक्ट को अन्य डिपूयों में भी लागू किया जायेगा। पटियाला डीपू की बसों के लिए 300 ऑनलाइन मशीनें बस अड्डों पर एडवांस टिकटें काटने वालों और बसों के कंडक्टरों को जारी की जाएंगी। श्रीमती चौधरी ने बताया कि पी.आर.टी.सी. की तरफ से यह प्रोजैक्ट 15 जुलाई तक शुरू करने के लिए पूरी तैयारी कर ली गई है और तय समय में इसकी शुरुआत हो जायेगी।

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.