bttnews

कैप्टन बोले केंद्र सर्जीकल स्ट्राईक के मामले पर भारतीय सेना का राजनीतिकरन करना बंद करे

नशों के मामले पर राजनैतिक और निजी लाभ लेने के लिए खैहरा की आलोचना  पुलिस कर्मचारियों द्वारा बच्चों को नशों की तरफ धकेलने के लिए राणा गु...


नशों के मामले पर राजनैतिक और निजी लाभ लेने के लिए खैहरा की आलोचना
 पुलिस कर्मचारियों द्वारा बच्चों को नशों की तरफ धकेलने के लिए राणा गुरजीत के दोषों की जांच का वादा



चंडीगढ़, 28 जून-



         पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह सर्जीकल स्ट्राईक के मामले पर भारतीय सेना का बार-बार राजनीतिकरन करने की कोशिशें करने के लिए केंद्र सरकार की तीखी आलोचना की है ।



        जोधपुर के नजऱबिन्दयों को मुआवज़े के चैक बाँटने के बाद पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने एक टैलिविजऩ चैनल द्वारा जारी की सर्जीकल स्ट्राईक की कथित वीडियो नहीं देखी और वह राजनैतिक फ़ायदा लेने के लिए सेना का प्रयोग किये जाने के हक में नहीं हैं ।



        कांगे्रस पार्टी द्वारा प्रगटाई गई भावनाओं के संबंध में कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि सेना द्वारा की गई कार्यवाई को राजनीति या वोटों के लाभ के लिए नहीं इस्तेमाल किया जाना चाहिए । उन्होंने कहा कि यह बदकिस्मती की बात है कि सर्जीकल स्ट्राईक जिसमें भारतीय सेना द्वारा की गई कार्यवाई का दावा किया जा रहा है, का बार-बार केंद्र सरकार द्वारा राजनीतिकरन किया जा रहा है ।



        एक अन्य सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने सुखपाल सिंह खैहरा द्वारा राजनैतिक और निजी लाभ के लिए नशों का मुद्दा बार -बार उठाने की कोशिश किये जाने के लिए तीखी आलोचना की । कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि आम आदमी पार्टी का नेता बार-बार अपनी फोटो अखबारों और टीवी चैनलों में देखना चाहता है । उन्होंने कहा कि उनकी सरकार नशों के मुकम्मल सफाए के लिए बढिय़ा तरीकों से काम कर रही है और इस लिए नशों के स्मगलर इस समय भारी दबाव में हैं ।



        कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि उनकी सरकार ने नशों के स्मगलरों की कमर तोड़ दी है और इस समय पर तकरीबन 10,000 स्मगलर जेलों में हैं । उन्होंने कहा कि नशों का एक सरगना हांगकांग जेल में है और उसकी स्पूदर्गी के लिए कोशिशें की जा रही हैं । कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने बताया कि नशों के तीन मुख्य सप्लायर भारत से फऱार हो चुके हैं । उन्होंने कहा कि नशा विरोधी सरकार की मुहिम के नतीजे के तौर पर हेरोइन की कीमतें आसमान को छूने लग पड़ी हैं ।



        एक अन्य सवाल के जवाब में कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि वह पूर्व कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह द्वारा पुलिस कर्मचारियों पर बच्चों को नशे में धकेले जाने के लगाऐ गए दोषों की जांच करवाएंगे ।



        मुख्यमंत्री ने बताया कि विभिन्न साधनों से प्राप्त हुई सूचना के अनुसार हेरोइन और चिट्टे की मार्केट में सप्लाई बहुत मामूली रह गई है । नशे के स्मगलर अब दूसरे पदार्थो का प्रयोग कर रहे हैं और अपने वर्ग की संतुष्टी के लिए नशेे छुड़ाने वाली ड्रग का भी प्रयोग करने लग पड़े हैं । उन्होंने कहा कि नशेबाजों द्वारा ऐसी ड्रग का दुरुपयोग किये जाने पर सख्ती से निगरानी रखने के लिए जल्दी ही दिशा-निर्देश जारी किये जा रहे हैं ।



         मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य को नशे से मुक्त करने के लिए पुलिस और लोगों और सरकार द्वारा सामुहिक कोशिशें किये जाने की ज़रूरत है । उन्होंने राज्य के लोगों को नशेबाजों को नशा मुक्ति केन्द्रों में पहुँचाने के लिए आगे आने की अपील की है ।

Related

Punjab 4561872170631717504

Recent

Popular

Comments

Aaj Ka Suvichar

For Ads

Side Ads

Bollywood hits

Btt Radio

Follow Us

item