नशे के मुद्दे पर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह फिर करने लगे पंजाबियों को गुमराह : काका बराड़ - BTTNews

Breaking

�� बी टी टी न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें bttnewsonline@yahoo.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 7035100015 पर

Saturday, July 07, 2018

नशे के मुद्दे पर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह फिर करने लगे पंजाबियों को गुमराह : काका बराड़


- आम आदमी पार्टी ने मरो या विरोध करों के अधीन शहर में निकाला रोष मार्च


श्री मुक्तसर साहिब, 7 जुलाई (बी.टी.टी. न्यूज) : पंजाब में फैले चिट्टे ओर नशीले पदार्थों के कारण नौजवानों की लगातार हो रही मौतों के प्रति पंजाब सरकार की तरफ से लगातार की गई अनदेखी के चलते लोगों की तरफ से मरो या विरोध करो के नारे नीचे 1 से 7 जुलाई तक मनाए जा रहे काले सप्ताह की कड़ी के अंतर्गत आम आदमी पार्टी की तरफ से हलका इंचार्ज जगदीप सिंह काका बराड़ के नेतृत्व में शहर में रोष मार्च निकाला गया। इस दौरान यह रोष मार्च खालसा स्कूल रोड से चल कर मस्जिद वाला चौंक तक और बैंक रोड होते हुए घास मंडी चौंक में पहुंचा मानवीय दीवार बनाकर लोगों को नशे प्रति जागरूक किया गया। इस मौके बोलते जगदीप सिंह काका बराड़ ने कहा कि अकाली भाजपा और कांग्रेस सरकार की तरफ से पंजाब में हो रही नशे कारण मौतों का ठीकरा एक दूसरे को आरोप लगाके तोड़ा जा रहा है। उन्होंने कहा कि लोगों के साथ तरह तरह के वायदे करके पंजाब की सत्ता संभालने वाले कैप्टन अमरिन्दर सिंह भी लगता नशे को नकेल डालने में नाकामयाब हो रहे हैं क्योंकि नित्य रोज हो रही मौतें सरकार पर सवालिया चिन्ह लगाती है। उन्होंने कहा कि पिछले समय दौरान नित्य रोज नशे की ओवरडोज कारण हो रही मौतें के बाद कैप्टन अमरिन्दर सिंह की तरफ से नशा तस्करों को मौत की सजा करने की शिफारिस केंद्र को भेजकर पंजाबियों को फिर से गुंमराह किया जा रहा है, क्योंकि मौत की सजा का कानून तो पहला ही फाईलों में ही बंद है। उन्होंने कहा कि इस कानून को लागू करवाने का यत्न करना चाहिए। उन्होंने कहा कि पंजाब में आया चिट्टे का नशा आज पंजाब के नौजवानों की रगों में इस कद्र रच गया है कि पंजाब के 6-6 फुट के गभरूओ को अपने कलावे में लेकर मौत के मुंह में लिजा रहा है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी शुरू से ही नशो का विरोध कर रही है और अब भी यह विरोध लगातार जारी रहेगा। इस के अलावा उन्होंने बीती 1 जुलाई से लगातार रोष प्रगटा रहे बच्चों के अभिभावक, साहित्यकार और अन्य समाज सेवीं संस्थायों का भी धन्यवाद किया जिन्होंने इस लड़ाई में आगे होकर योगदान डाला। इस मौके पंजाब रोडवेज के प्रधान अंग्रेज सिंह, भुपिन्दर सिंह, जय चंद भंडारी ने भी अपने संबोधन में लोगों को जागरूक किया कि माता पिता अपने बच्चों को समय देेें और ध्यान रखेें जिससे बच्चे नशो की दलदल में न धंसे। वक्तों ने कहा कि यह मुहिंम सिर्फ सप्ताह मनाकरखत्म नहीं होगी बल्कि यह मुहिंम आम आदमी पार्टी की तरफ से लगातार जारी रखी जायेगी। रोष मार्च दौरान नशे विरोधी बैनर वर्करों की तरफ से हाथों में पकडक़र लोगों को जागरूक किया गया।
इस मौके बाबू सिंह धीमान, कमलजीत सिंह, कैप्टन बलदेव सिंह, अंग्रेज सिंह, अजय भल्ला, बोहड़ सिंह, नरिन्दर खप्यांवाली, हरचरन सिंह चन्नी, राजू सराएनागा, कमलदीप बराड़, जसपाल धालीवाल, हरपाल सिंह पंजाब रोडवेज़, सोहण सिंह बधाई, सुमन कुमार तोती, अंग्रेज सिंह चक्क राम नगर, तेजिन्दर सिंह, मंजीत नाहर, सुखजिन्दर सिंह, अर्श बराड़, निरवैर सिंह, मिलापजीत सिंह गिल, साहिल कुंबा, भुपिन्दर सिंह, जगदीश कुमार, मैंबर अमरीक सिंह, रवीन्द्र फ़ौजी, इकबाल सिंह बुट्टर, शेरा ढिल्लों, जगदीप सिंह ढिल्लों आदि आम आदमी पार्टी के समूह वर्कर उपस्थित थे।