अरुणा चौधरी द्वारा अनुसूचित जाति मुलाजिमों की तरक्की के लिए आरक्षण बहाल करने के ऐतिहासिक फ़ैसले का स्वागत


सामाजिक सुरक्षा मंत्री ने मुख्यमंत्री का किया विशेष धन्यवाद

दलितों, अल्पसंख्यक और शोषित वर्गों के कल्याण के लिए कैप्टन सरकार पूरी तरह  वचनबद्ध

चंडीगढ़, 1 अगस्त

सामाजिक सुरक्षा, महिला और बाल विकास और परिवहन मंत्री श्रीमती अरुणा चौधरी ने पंजाब मंत्रीमंडल द्वारा अनुसूचित जाति मुलाजिमों की तरक्की के लिए आरक्षण बहाल करने के फ़ैसले को ऐतिहासिक करार देते हुए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह का धन्यवाद किया है।

आज यहां जारी प्रैस बयान में श्रीमती चौधरी ने कहा कि पंजाब सरकार सभी दलितों, अल्पसंख्यक, शोषित वर्ग के कल्याण के लिए वचनबद्ध है और इन वर्गों के हित सुरक्षित करने के लिए निरंतर उपाय कर रही है। उन्होंने कहा कि पंजाब कैबिनेट द्वारा राज्य में अनुसूचित जातियों से संबंधित सरकारी मुलाजिमों को बड़ी राहत देते हुए तरक्की के द्वारा पदों को भरने में अनुसूचित जातियों के मुलाजिमों के लिए ग्रुप ए और बी की सेवाओं में 14 प्रतिशत और ग्रुप सी और डी की सेवाओं में 20 प्रतिशत के आरक्षण का कोटा बहाल करने की मंज़ूरी दी है। यह आरक्षण अनुसूचित जातियों के मुलाजिमों के लिए प्रोफोरमा ओहदा -उन्नति और बदली के द्वारा नियुक्ति के लिए भी लागू होगा।

श्रीमती चौधरी ने कहा कि अनुसूचित वर्ग के मुलाजिमों की यह लम्बे समय से चली आ रही माँग थी जिसको कैप्टन सरकार ने पूरा करके इस वर्ग का दिल जीत लिया है। उन्होंने कहा कि पंजाब में दलितों की जनसंख्या राज्य की जनसंख्या का एक तिहाई हिस्सा है जोकि देश में सबसे अधिक है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी आधार से ही दलित वर्ग की हिमायती रही है और अब तरक्कियों में आरक्षण की बहाली करके एक बार फिर सिद्ध कर दिया है कि अनुसूचित वर्ग के हित कैप्टन सरकार में सुरक्षित है।

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.