श्री आनन्दपुर साहिब और माता नैना देवी को जोडऩे वाले रोपवे प्रोजैक्ट का रास्ता साफ - BTTNews

Breaking

�� बी टी टी न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें bttnewsonline@yahoo.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 7035100015 पर

POLL- PM KON ?

Friday, August 10, 2018

श्री आनन्दपुर साहिब और माता नैना देवी को जोडऩे वाले रोपवे प्रोजैक्ट का रास्ता साफ



खालसा की जन्म स्थली और माता नैना देवी को जोडऩा हिंदु-सिख संबंधों को करेगा और मज़बूत: नवजोत सिंह सिद्धू

पंजाब और हिमाचल प्रदेश के मध्य समझौता होगा पुर्नजीवित

पंजाब को आगे लेजाने के लिए हर कदम उठाएंगे, पर्यटन एवं सांस्कृतिक मामले मंत्री

चंडीगढ़, 10 अगस्त:

‘‘ख़ालसा की जन्म स्थली श्री आनन्दपुर साहिब और माता नैना देवी को जोडऩे वाला अति महत्वपूर्ण रोपवे प्रोजैक्ट का रास्ता साफ हो गया है। एक बार शुरू होने पर यह प्राजैक्ट न सिफऱ् पंजाब और हिमाचल प्रदेश में पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा देने के पक्ष से मील का पत्थर साबित होगा बल्कि हिंदु -सिख संबंधों को और मज़बूत भी करेगा।’’

आज यहाँ पंजाब म्युंसिपल भवन में हिमाचल प्रदेश के अतिरिक्त मुख्य सचिव (संस्कृति व पर्यटन) श्री राम सुभाग सिंह के साथ इस रोपवे प्रोजैक्ट की फिर शुरुआत करने बारे गंभीर विचार-विमर्श करने के बाद यह जानकारी देते हुए पंजाब के पर्यटन एवं सांस्कृतिक मामले मंत्री स. नवजोत सिंह सिद्धू ने बताया कि इससे पहले दोनों राज्यों के बीच एक समझौते (एम.ओ.यू.) पर हस्ताक्षर किए गये थे परन्तु यह 2014 में ठंडे बस्ते में चला गया था। इसकी पुन: शुरुआत संबंधी पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने राज्य के पर्यटन एवं सांस्कृतिक मामले मंत्री को निर्देश दिए हैं। स. सिद्धू ने आगे कहा कि इस समझौते पर इसी महीने के दौरान हस्ताक्षर किए जाएंगे जिससे यह प्रोजैक्ट रफ़्तार पकड़ेगा।

मीटिंग के दौरान श्री राम सुभाग सिंह ने बताया कि इस प्रोजैक्ट को हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा बीते दिनों हुई अपनी कैबिनेट मीटिंग में हरी झंडी दे दी गई है। इस पर स. सिद्धू ने कहा कि पंजाब द्वारा मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने इस प्रोजैक्ट को हरी झंडी दे दी है।

स. सिद्धू ने और जानकारी देते हुए बताया कि इस प्रोजैक्ट की अनुमानित लागत 200 करोड़ रुपए होगी और यह 3.5 किलोमीटर की दूरी तय करेगा। उन्होंने बल देकर कहा कि श्रद्धालुओं की सुरक्षा की अहमीयत को समझते हुए एक ऐसी उच्च कोटी की कंपनी की सेवाएं ली जाएंगी जिसका रिकार्ड हादसों से रहित होगा।

पर्यटन एवं सांस्कृतिक मामले मंत्री ने यह स्पष्ट किया कि इस प्रोजैक्ट संबंधी सभी आवश्यक स्वीकृतियां ली जाएंगी और इस प्रोजैक्ट को सफलतापूर्वक पूरा करने में कोई मुश्किल पेश नहीं आने दी जायेगी।

इस अवसर पर पंजाब के पर्यटन एवं सांस्कृतिक मामलों बारे विभाग के प्रमुख सचिव डा. रौशन संकारिया और डायरैक्टर स. मलविन्दर सिंह जग्गी भी मौजूद थे।