मुख्‍यमंत्री ने लगाए बादल पर लोगों की सहानुभूति का पात्र बनने और नौटंकी करने के आरोप 

चंडीगढ़, 17 नवंबर:
    पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने अकाली नेता और पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल की खिल्ली उड़ाते हुए कहा कि कोटकपूरा और बहबल कलाँ गोलीबारी मामलों में उनके विरुद्ध चल रही विशेष जांच टीम की जांच को राजनैतिक तौर पर प्रेरित बताकर वह लोगों का ध्यान भटकाने की निराशाजनक कोशिशें कर रहे हैं।
    एस.आई.टी. द्वारा उनके (कैप्टन अमरिन्दर सिंह) प्रभाव में काम करने सम्बन्धी बादल द्वारा दिए गए बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने विधानसभा द्वारा सर्वसम्मती से किये फ़ैसले का पालन करते हुए जांच टीम का गठन करके अपना कत्र्तव्य निभा दिया है ।

    मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘एस.आई.टी. एक स्वतंत्र एजेंसी है और सरकार की इसके कामकाज में कोई भूमिका नहीं है।  उन्होंने कहा कि यह अब जांच अधिकारियों पर निर्भर है कि वह जैसे चाहें अपनी जांच करें ।’’
    आज यहाँ जारी एक बयान में मुख्यमंत्री ने कहा कि एस.आई.टी. में बहुत ही काबिल अधिकारी शामिल हैं और वह जिसको भी चाहे सम्मन जारी करने और पूछताछ करने के लिए स्वतंत्र हैं । उन्होंने कहा, ‘‘यदि जांच अधिकारियों की तरफ से कोई दोषी पाया गया तो वह इस बारे एक रिपोर्ट तैयार करके अगली कार्यवाही के लिए अदालत को सौपेंगे । मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार का चल रही जांच या जांच के निष्कर्ष में जो भी हो, कोई भूमिका नहीं है ।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि बादल द्वारा दिया गया सुझाव बहुत ही हास्यप्रद है कि एस.आई.टी. की रिपोर्ट पंजाब के एडवोकेट जनरल द्वारा लिखी जायेगी । मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘श्री बादल मैं आपके जैसा नहीं, मैं तो कानून और निष्पक्ष जांच में विश्वास रखता हूँ ।’’
    स्वतंत्र भारत में अब तक लोकतांत्रिक ढंग से चुना कोई भी मुख्यमंत्री पूछताछ के लिए न बुलाने का दावा करके लोगों की सहानुभूति का पात्र बनने और नौटंकी करने के दोष बादल पर लगाते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसा लगता है कि बादल पर उम्र का असर हो गया है और वह भूलने की बीमारी से पीडि़त हैं । मुख्यमंत्री ने बादल को कानून का सम्मान करने वाले नागरिक के तौर पर जांच का सामना करने की सलाह देते हुए कहा, ‘‘आपकी सरकार के दौरान पटियाला सर्किट हाऊस में पुलिस ने मुझे मनघडं़त दोषों में सम्मन जारी करके पूछताछ की थी।’’
-------------

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.