चंडीगढ़, 14 नवंबर:
    जल संसाधन विभाग, पंजाब द्वारा खरीफ सीजन के दौरान सिंचाई के लिए 17 से 24 नवंबर, 2018 तक नहरों में पानी छोडऩे का प्रोग्राम जारी किया गया है। इस संबंधी विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया कि सरहिन्द केनाल सिस्टम की नहरों पटियाला फीडर, अबोहर ब्रांच, बिस्त दोआब केनाल, सिद्धवां ब्रांच और बठिंडा ब्रांच क्रमवार पहली, दूसरी, तीसरी, चौथी और पाँचवी प्राथमिकता के आधार पर चलेंगी।


    उन्होंने आगे बताया कि भाखड़ा मेन लाईन की नहरों और ब्रांचों जैसे घग्गर लिंक और इसमें गिरती घग्गर ब्रांच और पटियाला माइनर जो कि ग्रुप बीमें हैं, को पहली प्राथमिकता के आधार पर पूरा पानी मिलेगा। भाखड़ा मेन लाईन में से निकलती नहरों जो ग्रुप में हैं, को दूसरी प्राथमिकता के आधार पर बाकी बचता पानी मिलेगा।
    हरीके और फिऱोज़पुर हैड वर्कस में से निकलने वाली नहरों और ब्रांचों जैसे कि सरहिन्द फीडर में से निकलती अबोहर ब्रांच लोअर और इसके रजबाहों को, जो ग्रुप बीमें हैं, को पहली प्राथमिकता के आधार पर पूरा पानी मिलेगा। सरहिन्द फीडर में से निकलते सभी रजबाहों, जो ग्रुप में हैं, को दूसरी प्राथमिकता के आधार पर बाकी बचता पानी मिलेगा।
    उन्होंने आगे बताया कि अप्पर बारी दोआब केनाल में से निकलती सभराओं ब्रांच और इसके रजबाहों को पहल के आधार पर पूरा पानी दिया जायेगा जबकि कसूर ब्रांच लोअर, मेन ब्रांच लोअर, लाहौर ब्रांच और इसके रजबाओं को क्रमश: शेष बचता पानी मिलेगा।

-----------------

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.