कैप्टन अमरिन्दर सिंह द्वारा श्री आनन्दपुर साहिब विकास अथॉरिटी के गठन का ऐलान - BTTNews

Breaking

�� बी टी टी न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें bttnewsonline@yahoo.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 7035100015 पर

POLL- PM KON ?

Thursday, January 24, 2019

कैप्टन अमरिन्दर सिंह द्वारा श्री आनन्दपुर साहिब विकास अथॉरिटी के गठन का ऐलान

डेरा बाबा नानक विकास अथॉरिटी के तजऱ् पर बनेगी अथॉरिटी
9.52 करोड़ की लागत वाली लिफ़्ट सिंचाई स्कीम का नींव पत्थर रखा

श्री आनन्दपुर साहिब
    पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने आज श्री आनन्दपुर साहिब विकास अथॉरिटी के गठन का ऐलान किया जो इस साल नवंबर महीने में श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के सम्बन्ध में विकास योजनाओं को अमल में लायेगी।


    इस क्षेत्र के लोगों को लिफ़्ट सिंचाई की सुविधा मुहैया करवा कर उनका सामाजिक-आर्थिक जीवन स्तर संवारने के लिए लिफ़्ट सिंचाई स्कीमों का नींव पत्थर रखते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह प्रोजैक्ट 9 चरणों में पूरा होगा और पहले चरण की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है। 
इस इलाके में विधानसभा चुनाव से पहले अपने चुनावी दौरे को याद करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा उन्होंने उस समय यहाँ के निवासियों और किसानों की सुविधा के लिए लिफ़्ट सिंचाई प्रोजैक्ट शुरू करने का वादा किया था। उन्होंने कहा कि इस स्कीम से 80 गाँवों की पानी की ज़रूरत पूरी होगी जिसमें से पहले चरण में 4 गाँवों का चयन किया गया है।
    मुख्यमंत्री ने बताया कि 9.52 करोड़ रुपए की लागत वाला यह समूचा प्रोजैक्ट अगले 3 सालों में पूरा होगा। उन्होंने कहा कि यह स्कीम पानी की कमी से जूझ रहे यहाँ के लोगों के लिए वरदान साबित होगी।
    विधानसभा के स्पीकर राणा के.पी. सिंह की माँग स्वीकार करते हुए मुख्यमंत्री ने ऐलान किया कि विकास योजनाएँ विधिपूर्वक और योजनाबद्ध ढंग से बनाने और लागू करने के लिए श्री आनन्दपुर साहिब विकास अथॉरिटी का गठन किया जायेगा। उन्होंने कहा कि यह विकास अथॉरिटी डेरा बाबा नानक विकास अथॉरिटी के तजऱ् पर बनाई जायेगी।
    कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने आनन्दपुर साहिब के गाँवों को पीने वाला साफ़ पानी मुहैया करवाने के लिए 26 करोड़ रुपए का ऐलान किया जिससे यहाँ के लोगों को पीने वाले पानी के लिए दूर न जाना पड़े। उन्होंने कहा कि नूरपुर बेदी के इलाके के गाँवों को भी पीने वाले साफ़ पानी के लिए ज़रुरी फंड दिए जाएंगे।
    कंडी क्षेत्र के सर्वपक्षीय विकास की ज़रूरत का जि़क्र करते हुए कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि तख्त श्री केसगढ़ साहिब के जत्थेदार ने उनके समक्ष गढ़शंकर-आनन्दपुर साहिब सडक़ की मुरम्मत का मामला उठाया जिस पर काम जल्द ही शुरू होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने इस सम्बन्ध में लोक निर्माण मंत्री को हिदायत की है और यह प्रोजैक्ट 7 करोड़ रुपए की लागत से मुकम्मल किया जायेगा।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि साल 2026 में 400 साला समागम के मद्देनजऱ कीरतपुर साहिब के लिए विशेष विकास योजना बनायी जायेगी। इसके अलावा कीरतपुर बस अड्डे और मार्केट के बीच पुल का निर्माण होगा जिस पर जल्द ही कार्य शुरू किया जायेगा।
    स्थानीय क्षेत्र विकास (एल.ए.डी.) के अंतर्गत रूपनगर जिले के तीनों हलकों के लिए 15 करोड़ रुपए के बंधनमुक्त फंडों का ऐलान करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि विकास उद्देश्यों के लिए श्री आनन्दपुर साहिब नगर कौंसिल और नंगल नगर कौंसिल को 2-2 करोड़ रुपए का फंड अलग से दिया जायेगा। उन्होंने यह भी ऐलान किया कि कीरतपुर साहिब के लिए 50 लाख रुपए, रोपड़ के लिए 1.5 करोड़ रुपए, चमकौर साहिब के लिए 50 लाख रुपए और मोरिंडा के लिए 1.5 करोड़ रुपए के फंड दिए जाएंगे।
    मुख्यमंत्री ने चमकौर साहिब, रोपड़ और श्री आनन्दपुर साहिब के ग्रामीण क्षेत्रों के लिए क्रमवार 4 करोड़ रुपए, 3 करोड़ रुपए और 6 करोड़ रुपए के अलग अनुदान का भी ऐलान किया जिससे इन इलाकों का समूचा विकास किया जा सके।
    कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने यह भी ऐलान किया कि दसमेश पिता श्री गुरु गोबिन्द सिंह जी के बड़े साहिबज़ादों की याद में स्मारक के निर्माण, पार्क और चमकौर साहिब के सौंदर्यकरण पर 11 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे जिसको पिछली अकाली -भाजपा सरकार ने 10 सालों के दौरान अनदेखा किया हुआ था।
    जलसे को संबोधित करते हुए तकनीकी शिक्षा मंत्री चरनजीत सिंह चन्नी ने अकालियों द्वारा अपने एक दशक के शासनकाल के दौरान किसानों की भावनाओं से खेलने पर सख़्त आलोचना की। उन्होंने कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने किसानों के कजऱ् माफी बारे चुनाव से पहले किया वादा पूरा कर दिया है। श्री चन्नी ने कहा कि चमकौर साहिब में स्किल यूनिवर्सिटी स्थापित होने से पंजाब देश की कौशल राजधानी के तौर पर उभरेगा।
    पंजाब विधानसभा के स्पीकर राणा के.पी. सिंह ने अकालियों को हर मोर्चे पर नाकाम रहने के लिए आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि कंडी क्षेत्र के लोगों ने हमेशा ही सरहदों की चौकीदारी के लिए बड़ा योगदान देने के साथ-साथ आतंकवाद के विरुद्ध भी डटकर लड़ाई लड़ी है।
    राणा के.पी.सिंह ने हिमाचल सरकार की भोगेदारी से 250 करोड़ रुपए की लागत से आनन्दपुर साहिब-नैना देवी रोप-वे प्रोजैक्ट शुरू करने के लिए पंजाब सरकार का धन्यवाद किया जो पिछले 30 सालों से हवा में लटक रहा था। स्पीकर ने मुख्यमंत्री को कंडी क्षेत्र में बड़े औद्योगिक यूनिट स्थापित करने की अपील की जिससे इलाके में बेरोजग़ारी की समस्या हल की जा सके।
    इससे पहले मुख्यमंत्री श्री आनन्दपुर साहिब में तख्त श्री केसगढ़ साहिब पर नतमस्तक हुए जहाँ तख्त के जत्थेदार ज्ञानी रघबीर सिंह ने उनको सिरोपा भेंट किया। मुख्यमंत्री विरासती खालसा म्यूजिय़म देखने भी गए जो सिखों के 500 सालों के शानदार इतिहास को मूर्तिमान करता है।
    इस अवसर पर मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल, कांग्रेस के जि़ला प्रधान बरिन्दर सिंह ढिल्लों, पूर्व विधायक लव कुमार गोलडी, सिंचाई विभाग के प्रमुख सचिव सरबजीत सिंह, सहकारिता विभाग के सचिव विकास गर्ग, कृषि विभाग के सचिव काहन सिंह पन्नू और रूपनगर डिवीजऩ के कमिश्नर आर.के.कौशिक भी उपस्थित थे।
-----------

No comments:

Post a Comment