जंक फूड के व्याप्त सेवन के मद्देनज़र होगी सभी स्कूल कैंटीनों की जांच - BTTNews

Breaking

�� बी टी टी न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें bttnewsonline@yahoo.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 7035100015 पर

POLL- PM KON ?

Wednesday, January 09, 2019

जंक फूड के व्याप्त सेवन के मद्देनज़र होगी सभी स्कूल कैंटीनों की जांच

 

चंडीगढ़, 9 जनवरी:
पंजाब के फूड सेफ्टी विभाग के कमीश्रर श्री के एस पन्नू ने कहा कि जंक फूड के व्याप्त सेवन के मद्देनज़र स्कूल कैंटीनों की जांच की जाएगी और इस जांच के दौरान राज्य के सभी फूड इंस्पैक्टरों को पंजाब राज्य बाल अधिकार सुरक्षा आयोग की टीमों को सहयोग करने हेतु निर्देश दिए गए हैं।

उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय बाल अधिकार सुरक्षा आयोग (एनसीपीसीआर) ने स्कूली बच्चों द्वारा स्वास्थ्य को खतरा पैदा करने वाले जंक फूड के सेवन के प्रति गंभीर चिंता प्रकट की है। इसके मद्देनज़र राज्य बाल अधिकार सुरक्षा आयोग द्वारा राज्यभर की स्कूल कैंटीनों की जांच की जाएगी और इस जांच के दौरान फूड सेफ्टी कमीश्ररेट के कर्मचारी जांच दलों का सहयोग करेंगे। इस जांच का उद्देश्य स्कूली कैंटीनों में उच्च वसा, नमक और चीनी वाले खाद्य पदार्थ (एचएफएसएस फूड) जिन्हें आम तौर पर जंक फूड कहा जाता है, की उपलब्धता पर रोक लगाना है।

श्री पन्नू ने बताया कि यह देखने में आया है कि जंक फूड के सेवन से जीवन के आगामी समय में टाईप 2 डायबटीज़, हाईपरटेंशन और कार्डियोवास्क्यूलर जैसे रोगों और अन्य स्वास्थ्य खतरों का सामना करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि यह भी देखने में आया है कि ये रोग और बच्चों में होने वाला मोटापा बच्चों की ज्ञान क्षमता और विकास पर प्रतिकूल प्रभाव डालते हैं जिससे समाज को अपूरणीय क्षति का समाना करना पड़ता है।   

उन्होंने बताया कि एनसीपीसीआर ने सीपीसीआर अधिनियम, 2005 की धारा 13(1) (एफ) और (के) के अंतर्गत इस मामले का संज्ञान लिया है। क्योंकि यह मामला एचएफएसएस फूड का सेवन करने वाले स्कूली बच्चों के स्वास्थ्य से जुड़ा एक गंभीर चिंता का मुद्दा है, इसलिए इस बुराई/कुप्रथा को रोकने हेतु किए जाने वाले सभी प्रयासों में पंजाब फूड सेफ्टी कमीश्ररेट द्वारा हर प्रकार से सहयोग किया जाएगा।
-----------------