संसदीय चुनाव को लेकर कमर कसने लगा चुनाव आयोग - BTTNews

Breaking

�� बी टी टी न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें bttnewsonline@yahoo.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 7035100015 पर

Monday, January 07, 2019

संसदीय चुनाव को लेकर कमर कसने लगा चुनाव आयोग


मुख्य चुनाव आयुक्त ने लिया पंजाब, हरियाणा और चण्डीगढ़ की चुनाव तैयारियों का जायज़ा

चण्डीगढ़,7 जनवरी:
 भारत के मुख्य चुनाव आयुक्त श्री सुनील अरोड़ा ने आज यहाँ पंजाब, हरियाणा और चण्डीगढ़ के अधिकारी के साथ मीटिंग करके आगामी लोकसभा चुनाव 2019 की तैयारी का जायज़ा लिया।
आयोग द्वारा तैयारियों का जायज़ा लेने के लिए सबसे पहले पंजाब राज्य के अधिकारियों के साथ मीटिंग की गई। इसके उपरांत हरियाणा और चंडीगढ़ के अधिकारियों के साथ मीटिंग की गई।


मीटिंग के दौरान चुनाव की तैयारियों से सम्बन्धित अलग अलग मसलों सम्बन्धी विचार विमर्श किया गया, जिनमें पोलिंग स्टेशनों में दी जाने वाली सहूलतों, मुख्य चुनाव अधिकारी के कार्यालय में मुलाजिमों की संख्या पूरी करनी और बुनियादी ढांचे को मज़बूत करना, फील्ड में चुनाव से सम्बन्धित अधिकारियों और कर्मचारियों के पदों को भरने बारे, चुनाव से सम्बन्धित सामान जैसे कि ई.वी.एम,/वी.वी.पैट और अन्य साजो सामान की उपलब्धता और ज़रुरी बजट का प्रबंध आदि मुख्य थे। मुख्य चुनाव अधिकारी पंजाब, हरियाणा और चण्डीगढ़ ने इस मौके पर 01-01-2019 विशेष वोटर जाँच की प्रगति, वोटर हेल्प लाईन 1950 और सूचना प्रौद्यौगिकी की अन्य ऐपलीकेशनों सबंधी अवगत करवाया।
इसके बाद आयोग द्वारा पंजाब और हरियाणा के मुख्य सचिवों, पुलिस मुखियों, ग्रह सचिवों, अन्य सीनियर अधिकारियों और चण्डीगढ़ के प्रशासक के सलाहकार और अन्य अधिकारियों के साथ आम चुनाव से सम्बन्धित तैयारियों संबंधी विचार चर्चा की गई जिससे इन चुनावों को निष्पक्ष,भय मुक्त, सुचारू, सामुहिक हिस्सेदारी और शांतमयी ढंग से पूरा किया जा सके।
मुख्य चुनाव आयोग ने मीटिंग में उपस्थित समूह मुख्य चुनाव अधिकारियों को निर्देश दिए कि वोटरों के लिए चुनाव के साथ सम्बन्धित सारी जानकारी और वोटरों की सुविधा के लिए एक संपर्क नंबर 1950 से सभी संपर्क केन्द्रों को जोडऩे के आदेश दिए। उन्होंने यह भी आदेश दिए कि वोटरों की सुविधा के लिए हरेक पोलिंग स्टेशनों पर कम से कम सुविधाएं तय समय में देना यकीनी बनाया जाए।
श्री अरोड़ा ने इस अवसर पर दिव्यांग वोटरों का विस्तृत डाटा बेस तैयार करने के लिए भी कहा जिससे वोट वाले दिन हरेक दिव्यांग वोटर को उचित सहायता देना यकीनी बनाने के लिए पी.एस मैपिंग की जा सके और आयोग के मोटो कोई वोटर पीछे न रहेको भी हासिल किया जा सके। उन्होंने कहा कि आगामी चुनाव को वोटर समर्थकी बनाने के लिए विशेष प्रबंध किए जाएँ और दिव्यांग, किन्नर / तीसरा लिंग और बुज़ुर्गों के लिए ज़रूरी सभी सुविधाएं मुहैया करवाई जाएँ।
उन्होंने इस अवसर पर चुनाव से सम्बन्धित अधिकारियों / कर्मचारियों को दिए जाने वाले प्रशिक्षण को विस्तृत करने,ई.आर.ओ. नैट,बी.एल.ओ नैट,वोटर सूचियों की संशोधित और इन्फर्मेशन प्रौद्यौगिकी आधारित एप्लीकेशन जैसे कि सुविधा, समाधान, सुगम और सी-वीजिल और विद्युत पोस्टल बैलेट पेपर सिस्टम(ई.टी.पी.बी.सी.)बारे जानकारी देने के भी आदेश दिए।
इस समीक्षा मीटिंग में भारतीय चुनाव आयोग के सीनियर अधिकारी शामिल थे जिनमें उमेश सिन्हा सीनियर डिप्टी चुनाव कमिशनर, धीरेंद्र ओझा डायरैक्टर जनरल और निखिल कुमार डायरैक्टर उपस्थित थे।
--------------------------