Type Here to Get Search Results !

स्मार्ट शहरों के सभी सरकारी स्कूल बनेंगे स्मार्ट, हरेक हलके में बनेंगे 10 -10 मॉडल स्कूल

विद्यार्थियों को वर्दियों का वितरण एक हफ़्ते में होगा शुरू
अमृतसर, 15 फरवरी:
सरकारी स्कूलों में पढऩे वाले बच्चों को प्राईवेट स्कूलों के बराबर की शिक्षा देने के मकसद से शिक्षा विभाग ने पंजाब के तीनों ही स्मार्ट शहरों अमृतसर, जालंधर और लुधियाना के सभी सरकारी स्कूलों को स्मार्ट स्कूलों में तबदील करने का फ़ैसला किया है।


यह खुलासा करते हुए पंजाब के शिक्षा मंत्री श्री ओ.पी. सोनी ने शुक्रवार को ऐलान किया कि इस मंतव्य के लिए तीनों ही जि़लों के जि़ला शिक्षा अधिकारियों (डी.ई.ओज़) को तकरीबन 20 करोड़ रुपए जारी कर दिए गए हैं और इस पर काम जल्दी शुरू होगा। इन स्कूलों को लैपटॉप, मल्टीमीडिया प्रोजैक्टरों और तेज़ रफ़्तार इन्टरनेट से लैस किया जायेगा जिससे अध्यापन और सीखने की प्रक्रिया को सुविधाजनक और अधिक प्रभावशाली बनाया जाये। उन्होंने कहा कि इन स्कूलों में स्मार्ट क्लास रूमों के अलावा छतों पर सौर्य ऊर्जा प्लांट भी लगाऐ जाएंगे। उन्होंने यह भी ऐलान किया कि विभाग ने छात्राओं को मुफ़्त सैनेटरी नैपकिन मुहैया करने का फ़ैसला किया है और इसलिए 10 करोड़ रुपए के टैंडर जारी किये गए हैं। उन्होंने कहा कि अगले शैक्षिक सैशन से हरेक हलके में 10 -10 मॉडल स्कूल बनाऐ जाएंगे।
अन्य विवरण देते हुए श्री सोनी ने कहा कि विद्यार्थियों की वर्दियों के लिए 80 करोड़ रुपए के टैंडर भी अलॉट किये गए हैं और बच्चों को एक हफ़्ते में वर्दियाँ मिलनी शुरू हो जाएंगी। उन्होंने और कहा कि अब तक कुल 2,524 स्कूलों को स्मार्ट स्कूलों में तबदील किया जा चुका है। इस समुची कवायद का मकसद मानक शिक्षा देने के लिए शिक्षा प्रणाली को सुचारू बनाना है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि यह विभाग का सबसे अहम प्रोजैक्ट है, जिसका मकसद पंजाब के शिक्षा ढांचे का नवीनीकरण करना है। उन्होंने कहा कि इस पहलकदमी से बढ़ -फूल रहे प्राईवेट स्कूल सभ्याचार को भी नकेल डलेगी। उन्होंने कहा कि इन स्मार्ट स्कूलों में से निकलने वाले विद्यार्थी इस मुकाबले के युग में कोई भी परीक्षा में सफलता प्राप्त कर सकेंगे।
--------------

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.