हरीके वैटलैंड पर्यटन स्थल के तौर पर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर होगा विकसित - BTTNews

ताजा अपडेट

�� बी टी टी न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें bttnewsonline@yahoo.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 7035100015 पर

Saturday, February 02, 2019

हरीके वैटलैंड पर्यटन स्थल के तौर पर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर होगा विकसित


पंजाब सरकार द्वारा पर्यटन को विकसित करने के लिए 1200 करोड़ रुपए की व्यापक योजना तैयार
नवजोत सिद्धू द्वारा हलका ज़ीरा और पट्टी में सिवरेज डालने के लिए 20-20 करोड़ रुपए का ग्रांट का किया ऐलान


हरीके (तरन तारन) 2फरवरी:

पंजाब सरकार द्वारा एशियन डिवैल्पमैंट बैंक के सहयोग से 1200 करोड़ रुपए ख़र्च करके राज्य में पर्यटन को विकसित करने के लिए व्यापक योजना तैयार की गई है। जिसमें से 150 करोड़ रुपए ख़र्च करके हरीके वैटलैंड को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पर्यटन स्थल के तौर पर उभारा जायेगा। इन विचारों का खुलासा पर्यटन, संास्कृतिक मामले और स्थानीय निकाय विभाग के मंत्री स. नवजोत सिंह सिद्धू ने आज वल्र्ड वैटलैंड दिवस के मौके पर हरीके हैड वर्कस में करवाए गए विशेष समागम को संबोधन करते हुए किया। 

इस अवसर पर हलका विधायक ज़ीरा श्री कुलबीर सिंह ज़ीरा और हलका विधायक पट्टी श्री हरमिन्दर सिंह गिल के अलावा सीनियर कांग्रेसी नेता श्री इन्द्रजीत सिंह ज़ीरा भी विशेष तौर पर मौजूद थे। इस दौरान कैबिनेट मंत्री द्वारा पर्यटन विभाग की तरफ से जलगाहों के पक्षियों और लैंड स्केप सम्बन्धी लगाई गई फोटो प्रदर्शनी का भी उद्घाटन किया गया। इस अवसर परउन्होंने विधानसभा हलका ज़ीरा और पट्टी में सिवरेज डालने के लिए 20 -20 करोड़ रुपए की राशि देने का भी ऐलान किया। 

इस अवसर पर संबोधन करते हुए कैबिनेट मंत्री स. नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि हरीके वैटलैंड को पर्यटन के तौर पर विकसित करने के लिए माहिरों द्वारा एक व्यापक योजना तैयार की गई है, जोकि पर्यावरण और पक्षी प्रेमियों के लिए आकर्षण का केंद्र बनेगी। उन्होंने बताया कि पर्यटन विभाग की तरफ से यहाँ 10 करोड़ रुपए की लागत से सूचना केन्द्र, बर्ड वाच टावर, बर्ड हाईड्स और वाच टावर के अलावा कैंटीन और पार्किंग आदि बनाऐ जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि हरीके वैट्टलैंड में हर साल बड़ी संख्या में प्रवासी पक्षी आते हैं, इस साल यहाँ रिकार्ड लगभग 1 लाख 25 हज़ार पक्षियों की आमद हुई है। उन्होंने बताया कि बहुत जल्द ही सैलानियों के लिए ई रिक्शा, साइकिल और बोटींग आदि सहूलतों के अलावा अन्य सहूलतें भी मुहैया करवाई जाएंगी।

इस अवसर पर श्री नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि पंजाब सरकार द्वारा राज्य में विरासती, सांस्कृतिक, मैडीकल, धार्मिक और इकौ टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए विशेष प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि हरीके जलगाह को पर्यटन के तौर पर विकसित करने के लिए 6 महीनों के अंदर काम शुरू कर दिया जायेगा और 3 साल के अंदर इसको पूरा करने का लक्ष्य निश्चित किया गया है। उन्होंने कहा कि हरीके वैटलैंड में जंगली जड़ी बूटी को हटाकर वॉटर लिली और कमल आदि के पौधे लगाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि पंजाब सरकार द्वारा रमसर गाईडलाईन के अनुसार हरीके वैटलैंड को पहले नंबर की रमसर वैटलैंड का दर्जा दिया गया है। 

इस अवसर पर संबोधन करते हुए विधायक श्री कुलबीर सिंह ज़ीरा और स. हरमिन्दर सिंह गिल ने हरीके वैटलैंड में हुए नाजायज कब्ज़ों सम्बन्धी कैबिनेट मंत्री को जानकारी दी जिस पर मंत्री की तरफ से नाजायज कब्ज़े हटाने के लिए जल्द कार्यवाही करने का भरोसा दिया गया। 

इस अवसर पर पर्यटन विभाग की तरफ से स्कूली विद्यार्थियों को जलगाहों और पक्षियों सम्बन्धी वीडियो प्रस्तुति भी दिखाई गई और जलगाहों और पर्यावरण संतुलन सम्बन्धी भी महत्वपूर्ण जानकारी दी गई। इस अवसर पर स्कूली विद्यार्थियों में पेंटिंग मुकाबले करवाए गए, जिसके विजेता विद्यार्थियों को कैबिनेट मंत्री की तरफ से नकद इनाम भी दिए गऐ।   

इससे पहले पर्यटन एवं सांस्कृतिक मामले विभाग के प्रमुख सचिव श्री विकास प्रताप और मंडलीय वन अधिकारी श्रीमती कल्पना सिंह द्वारा मुख्य मेहमान श्री नवजोत सिंह सिद्धू का औपचारिक स्वागत करते हुए उपस्थित लोगों को जलगाहों की महत्ता और पर्यावरण संतुलन सम्बन्धी महत्वपूर्ण जानकारी दी गई।

इस अवसर पर डायरैक्टर टूरिज्म एम. एस. जग्गी, अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर जनरल स. गुरमीत सिंह मुलतानी, ऐग्ज़ीक्यूटिव डायरैक्टर टूरिज्म श्री आर.एस. अरोड़ा, एस.डी.एम. ज़ीरा श्री नरिन्दर सिंह धालीवाल, सहायक कमिशनर स. रणजीत सिंह सहित बड़ी संख्या में लोग और स्कूली विद्यार्थी उपस्थित थे। 
-------------


No comments:

Post a Comment