रोपड़, 19 फरवरी:
रोपड़ पुलिस ने आज एक बड़ी सफलता दर्ज करते हुए राज्य में 60 से भी अधिक लूटमार और चोरी के मामलों से सम्बन्धित अंतर्राज्यीय गिरोह का पर्दाफाश किया है। इस गिरोह के तार पटियाला, खन्ना, फतेहगढ़ साहिब, मोहाली, रोपड़ और बिलासपुर (हमाचल प्रदेश) में हुई लूटमार और चोरी की घटनाओं के साथ जुड़े बताए जाते हैं।


गिरोह के सभी मैंबर पटियाला शहर से हैं और सभी 10वीं से कम पढ़े लिखे हैं और पिछले तीन सालों के दौरान उक्त जि़लों में हुई वारदातों में सक्रिय बताए जाते हैं।
पुलिस ने दोषियों से 50 से अधिक मोबाइल फ़ोन और 6 मोटरसाईकल बरामद किये हैं। एटीएम लूटने की कोशिशें कर चुके इन दोषियों के पास से बेसबॉल के बैट भी बरामद हुए हैं जिससे वे पीडि़त के सिर पर वार किया करते थे। एटीएम लूटने की इन घटनाओं की जांच अभी चल रही है।
उक्त जि़लों की पुलिस द्वारा वंाछित ये पाँच दोषी नशेड़ी हैं और 25 साल से कम उम्र के हैं। इनमें से गुरप्रीत और अनिकेत पर लूटमार के कई मामले, हत्या का प्रयास, हत्या के कई मामले जिला पटियाला में दर्ज हैं। गिरफ़्तार किये गए अन्य अपराधियों में जगप्रीत, अमनदीप और मंगल दास शामिल हैं।
पटियाला शहर के फेज़ 1 और 2 के निवासी ये अपराधी दिहाड़ी करने वाले परिवारों से सम्बन्धित हैं। बड़े अनूठे ढंग से वारदात करने वाले ये सभी दोषी किसी देवी या बाबा की धार्मिक यात्रा पर जाने के बहाने मोबाइल फ़ोन घर ही छोडक़र चले जाते और घर लौटते समय रास्ते में कई वारदातों को अंजाम दिया करते थे। इसी तरह जब ये अपने काले मंसूबों को अंजाम देने के लिए जाते तो कुछ दिनों तक लूटमार की कई वारदातों को अंजाम देते।
रोपड़ के एसएसपी श्री स्वप्न शर्मा ने बताया कि ये लोग देर रात को ही लोगों को लूटते थे क्योंकि उस समय कम ट्रैफिक़ होने के कारण आसानी से बचकर निकला जा सकता थी। उन्होंने बताया कि वारदातों के दौरान मोबाइल न रखने का कारण पुलिस को चकमा देना था, जिसमें ये दोषी बहुत माहिर थे।
--------
Tags

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.