मनतार बराड़ की बेल की अर्जी रद्द होने के कारण कोटकपूरा गोली कांड में अकाली दल की शामूलियत हुई जग ज़ाहिर
बहबल कलाँ और कोटकपूरा गोली कांड की जांच कर रही विशेष जांच टीम की कारगुज़ारी से घबराए अकाली

चंडीगढ़, 20 मार्च:


आज पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सीनियर नेता और कैबिनेट मंत्री स. सुखजिन्दर सिंह रंधावा ने कहा कि अकाली दल के पूर्व विधायक मनतार सिंह बराड़ की बेल की अजऱ्ी को फरीदकोट अदालत द्वारा रद्द कर देने से बहबल कलाँ और कोटकपूरा में साल 2015 के दौरान घटी श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी की घटनाओं के विरुद्ध शांतमयी ढंग से रोष प्रदर्शन कर रहे लोगों पर गोली चलाने के भद्दे और अमानवीय काम में अकाली दल की निसन्देह शमूलियत को जग ज़ाहिर कर दिया है।
अकालियों पर बरसते हुए श्री रंधावा ने कहा कि बहबल कलाँ और कोटकपूरा गोली कांड की जांच कर रही विशेष जांच टीम(एस.आई.टी) की कार्यवाही देखकर अकाली पूरी तरह से डर और घबरा गए हैं क्योंकि एस.आई.टी. के प्रमुख कुंवर विजय प्रताप सिंह के बयान ने इस तथ्य को प्रमाणित कर दिया है।
स. रंधावा ने अकाली दल के नेताओं को आड़े हाथों लेते हुए आगे कहा कि अकालियों के लिए इससे अधिक शर्मनाक और घिनौना क्या हो सकता है कि वह(अकाली) अब तक बेअदबी की घटनाओं में शामिल दोषियों को काबू करने में असफल रहे और शांतमयी ढंग से बेअदबी के विरुद्ध धरना लगाए बैठे लोगों पर गोली चलाने के हुक्म भी दिए। उन्होंने कहा कि ऐसे घिनौने अपराध करने वाले अकाली अब कौन सा मुँह लेकर पंजाब के लोगों से वोट माँग रहे हैं। लोग अब अकालियों का असली चेहरा पहचान चुके हैं और वह दिन दूर नहीं जब अकालियों को अपने घिनौने अपराधों की सज़ा भुगतनी पड़ेगी।
Tags , ,

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.